GAY MARRIAGES करने के लिए URVI SHAH के मैरिज ब्यूरो से जुड़े 24 देशों के लोग

2168
Urvi Shah
Urvi Shah who set up india's first gay marriage bureau (Pik Cour: The Week)

जहां एक तरफ हमारे देश में Homosexuality को अभी एक अपराध की तरह देखा जाता है वहां Urvi Shah ऐसे लोगों को मिलाने के लिए Gay Marriage Bureau चला रहीं है. Urvi Shah के इस मैरिज ब्यूरो से 24 देशों के सदस्य जुड़े हुए हैं.




हमारे यहां अभी भी समाज और कानून दोनों जगहों से Heterosexuality को मान्यता है और ऐसे लोगों को मिलाने और उनका घर बसाने के लिए सैंकड़ों Marriage Bureau चल रहे हैं. वहीं Urvi Shah के ब्यूरो Same Sex Marriages पर फोकस कर रहा है.

Urvi Shah
Gay Marriage Bureau

Homosexuality (समलैंगिकता) जिसे अभी भी समाज और कानून अच्छी नजर से नहीं देखता वैसे लोगों के लिए Urvi Shah 2015 से Arranged Gay Marriage Bureau (International Marriage Bureau for Gays & Lesbians) चला रही हैं.




READ THIS: PLUS SIZE हैं तो क्या हुआ, खुद से करें प्यार और ऐसे करें लोगों की बातों को इग्नोर

वे इसकी फाउंडर हैं. उन्होंने Chicago से इस ब्यूरो को चलाना शुरु किया था लेकिन अब अहमदाबाद से चला रही हैं. ‘HUFFPOST’ को दिए एक इंटरव्यू में उर्वी शाह ने बताया कि…. वे दिल्ली में जब एक Gay Group से मिलीं तो और उनसे बातचीत की तो जाना कि उनके जीवन में किस तरह की दिक्कतें होती हैं.




जब मैंने उनसे पूछा कि वे Matrimonial Websites को क्यों नहीं ज्वाइन करते तो पता चला कि कहीं भी LGBTQ People के लिए कोई कैटगरी नहीं है.

उर्वी की वेबसाइट ने अब तक कई देशों और कई शहरों में ऐसे  Same Sex वालों को मिलवाया है जो अब तक अपने लिए पार्टनर नहीं ढूंढ पा रहे थे.

इस तरह की एक अलग वेबसाइट चलाने के लिए भले उर्वी को LGBTQ  Community का समर्थन मिला हो लेकिन शुरु में उनके घरवालों और दोस्तों की प्रतिक्रिया उनके लिए निगेटिव ही रही.

SEE THIS: क्यों मीडिया की सुर्खियों में छाई है छत्तीसगढ़ की बेटी MAMTA TRIPATHI, किस काम में मिली है उन्हें सफलता ?

उन्होंने जब अपने पिताजी को बताया कि वे LGBTQ Community के लिए काम करना चाहती हैं तो उनके पिताजी ने उनसे कहा कि वे नहीं मानते कि भारत में Gay People भी हैं?

Orthodox परिवार से होने के कारण उनके घरवालों ने उन्हें Hometown अहमदाबाद से Webesite चलाने की इजाजत नहीं दो उन्होंने इस वेबसाइट को शिकागो से चलाने का फैसला किया. उनके घरवालों ने उनसे कहा कि वे किसी को नहीं बताएं कि वे क्या काम कर रही हैं?

वहीं उनके दोस्तों का रवैया भी सपोर्टिव नहीं रहा, लेकिन उर्वी ने उनसे दूरी रखने के बजाए उन्हेंं Homosexuality को लेकर जागरुक करने का काम शुरु कर दिया.

 

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें