यदि आप नहीं पहचानती हैं अपनी STRENGTH या करती हैं IGNORE तो आपके साथ होता होगा ये सब

561
Strength
understand your own strengths

संयोगिता कंठ:

हम में से बहुत सारे लोग अपने Strength से वाक़िफ नहीं होते या जानबूझ कर अपनी Strength  को Ignore करते हैं. अकेले कहीं बाहर जाना हो, अकेले यात्रा करनी पड़े या नौकरी करनी पड़े तो घबराहट होने लगती है.

बहुत सारी महिलाएं अपने हर काम के लिए पति, बच्चों या घर के दूसरे सदस्यों पर निर्भर करती हैं. खुद के अंदर की Strength को पहनचाती नहीं इसलिए दूसरों पर निर्भर रहना मानों उनकी आदत बन गई है.




अपनी हुनर और प्रतिभा के बल पर महिलाएं चाहे जो कर सकती हैं और कह रही हैं लेकिन कुछ लोगों पर डर इस तरह हावी रहता या वे दूसरों पर इतना निर्भर रहती हैं कि सोचती हैं जैसा चल रहा है वैसा चलने दो.

जो नहीं पहचानती हैं अपनी Strength उनके साथ होता है ये सब..

1-अकेले घर से निकलने में लगता है डर

2-कोई भी काम शुरु करने में घबराहट होती है




3-आत्मविश्वास की कमी के कारण कोई भी काम असंभव लगता है.

4- ऐसा लगता है “ मानो मुझसे नहीं होगा’

READ THIS: क्या आपके BODY LANGUAGE  से झलकता है CONFIDENCE ?

5-डर के कारण तनाव और चिंता से घिर जाती हैं.

6-समस्याओं को देखकर भी उसके समाधान के लिए हिम्मत नहीं जुटा पाती हैं.

क्यों नहीं हम अपने अंदर की Strength को पहचानते हैं जिससे कि आत्मविश्वासी बनें और जीवन में किसी भी हालात का सामना करने की हिम्मत रख सकें. यह तभी होगा जब हम अपने Strength पर ग़ौर करेंगे. यह किसी के बताने से नहीं बल्कि खुद की खोज से ही पता चलेगा

 

कैसे पहचानें अपनी Strength  




Senior Counsellor Dr. Neelam Saxsena,  कहती हैं कि नारी को शक्ति का रुप यूं ही नहीं कहा गया है. ताकत हर मनुष्य के अंदर है और महिलाओं के अंदर तो यह असीम है. lack of Self-Awareness के कारण ही महिलाएं अपनी स्ट्रेंथ को पहचान नहीं पाती.

Strengthइसका सबसे आसान तरीका है किसी भी डर को अपने ऊपर हावी नहीं होने दे. मुश्किल परिस्थिति में अंदर की ताकत अपने आप बाहर निकल जाती है. अपने अंदर का एनर्जी को जगाएं.

SEE THIS: कौन सी राह बेहतर-WORKING या HOUSEWIFE रहने की?

जब अकेले हो तो दोनों हाथों की मुठ्ठी बांध लो, खूब तेज चिल्लाओ इससे आपका कांफिडेंस बढ़ेगा. यदि आप लगातार इसे करती हैं तो इससे आपको पता चल जाता है कि आप कितना तेज चिल्ला सकती हैं और आप कुछ भी कर सकती हैं.

सुबह जब भी उठें इस बात को दोहराएं कि आप किसी भी परिस्थिति का सामना कर सकती हैं. छोटे-छोटे काम से इसकी शुरुआत करें. थोड़ी-थोड़ी दूर अकेली जाना शुरु करें.

Strengthसामान की खरीदारी खुद करें, हर बात और हर काम के लिए पति पर निर्भर रहने की आदत को बदलना होगा. Skill Development के लिए जरुर प्रयास करें और आत्मनिर्भर बनने की कोशिश करें. यह हर परिस्थिति में आपके अंदर के आत्मविश्वास को बनाए रखेगा.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें