SEXUAL INTIMACY में जबरदस्ती की कोई जगह नहीं, SEX का मन न हो तो पति को कहें NO

998
Sexual intimacy
Sexual intimacy should not be forcefully, not willing for sex say no

सुमन बाजपेयी:

पति-पत्नी में Sexual intimacy रहे तो शादीशुदा जिंदगी खुशहाल रहती है. Sexual intimacy रहने से पति-पत्नी न केवल शादीशुदा जिंदगी को इंज्वॉय करते हैं बल्कि दांपत्य जीवन की गाड़ी भी प्रेमपूर्वक चलती है.

Sex  शादीशुदा जिंदगी का एक जरुरी हिस्सा है. यदि पत्नी-पत्नी के बीच  Sex न हो तो उनकी Married Life  पर इसका असर पड़ता है.

Sexual intimacy आपसी सहमति या रजामंदी से भरा हो तो इससे Husband-Wife के आपसी रिश्तों में ताजगी बनी रहती है. जहां Sexual Relation बनाने में पत्नी की इच्छाओं का ध्यान रखा जाता है वहां पति-पत्नी के रिश्तों के बीच खुशहाली देखी जाती  लेकिन यदि यह जबरदस्ती किया जाए तो इससे पत्नी की शारीरिक और मानसिक स्थिति पर इसका खराब प्रभाव  पड़ता है.

वसुधा की कहानी को सुनिए..

‘‘क्या बात है, आजकल तुम इतनी परेशान क्यों रहती हो? चेहरे की सारी रौनक खतम हो गई है?’’ आशा ने अपनी सहेली वसुधा से पूछा।

‘‘बस आजकल तबियत कुछ ठीक नहीं रहती है. दिन भर तो शरीर में ताजगी बनी रहती है, पर रात होते-होते न जाने क्या हो जाता है मुझे, एक भय सा जकड़ा रहता है. इस बात से मनोहर  नाराज रहते हैं और हमारे बीच झगड़ा हो जाता है.’’




‘‘कहीं ऐसा तो नहीं कि मनोहर तुम्हारी मर्जी के बिना तुम्हारे साथ सेक्स संबंध बनाने की कोशिश करता हो? ’’

‘ ऐसा तो शादी के बाद से हो रहा है. वह हमेशा मेरे साथ जर्बदस्ती करता है, इसलिए जब भी वह मेरे नजदीक आने की कोशिश करता है, मैं डर जाती हूं.

ऐसा नहीं है कि Sex को लेकर मेरे मन में किसी तरह की वर्जना है मुझे उससे प्यार नहीं है, बस उसका मुझ पर रौब जमाते हुए सेक्स करना मुझे अखरता है. इस तरह  Forced Intercourse करके आखिर वह क्या साबित करना चाहता है?’’




पति यह सोचकर कि पत्नी उसकी Property है, बिना उसकी इच्छाओं का खयाल रखे, या उसके मन को समझे, उसके साथ सेक्स संबंध बनाते हैं. इस तरह न तो वह खुद आनंद उठा पाते हैं और न ही पत्नी खुश रह पाती है. पति को यह समझना चाहिए कि Sexual intimacy में Domination का मायने नहीं होता बल्कि परस्पर भागीदारी होती है.

READ THIS: COUPLES के लिए क्यों जरुरी है EXPRESSIVE होना?

जबर्दस्ती किया गया सेक्स न सिर्फ संबंधों में कड़वाहट व असंतुष्टि पैदा करता है, वरन इससे औरत के स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ता है. कई बार पति सोई हुई पत्नी को जगाकर सेक्स करना चाहते हैं. यह समझे बगैर कि दिन-भर की थकीहारी पत्नी यदि गहरी नींद में सो रही है तो इस तरह जगाने से उसकी नींद भी प्रभावित हो सकती है.

इसलिए अगर पति जबरन सेक्स करने की कोशिश करें तो Frustrate होने के बजाय No कहना सीखिए. पति के प्यार में जब एक शक्ति प्रदर्शन की भावना आ जाती है तो वहां प्यार नहीं, वरन एक पौरूष प्रदर्शन ज्यादा दिखने लगता है.

Sociologist Vimla Lal के अनुसार, ‘‘पति जब पत्नी के साथ जबरन सेक्स करता है तो उसके Physical Health के साथ-साथ उसके Mental Health पर भी बुरा असर पड़ता है.  इसे कानून की भाषा में आजकल Marital Rape भी कहा जा रहा है और इस पर बहस भी चलती रहती है.

इस स्थिति से औरत को खुद ही बाहर निकलना होगा, क्योंकि अकसर हमारे समाज में औरतें इसके लिए कानून का सहारा नहीं लेती हैं. अगर वह ऐस करे तो बात सीधे Divorce पर ही पहुंचती है. यहां तक कि औरत यह बात किसी से शेयर करने से भी कतराती है.’’




पत्नी की मनमर्जी के बिना बनाए गए संबधों को ही कानून व समाज विवाह के बाद किया जाने वाले बलात्कार (Marital Rape) का नाम देता है. अकसर पति पत्नी की अनिच्छा देखकर हिंसक हो उठते हैं. कई बार गालियां भी देने लगते हैं.

उस समय उसकी पीड़ा भी उन्हें नहीं दिखती क्योंकि तब केवल उन्हें अपनी संतुष्टि से ही मतलब होता है. पति द्वारा जबरन बनाए गए सेक्स संबंध की वजह से औरत के वजाइना में चोट लगने की भी संभावना रहती है.

SEE THIS: PHYSICAL RELATION के अलावा आपके साथ ये 5 चीजें और करना चाहता है आपका पार्टनर

एक सर्वे के अनुसार 18 प्रतिशत औरतों को Sex के कारण चोट पहुंचती है और 75 प्रतिशत औरतें इससे इसलिए कतराती हैं, क्योंकि वे इस दौरान अपने पति को Emotionally स्वयं से जुड़ा नहीं पाती हैं.

पति भावनात्मक रूप से भी औरत को ब्लैकमेल करते हैं, उसे छोड़ देने की धमकी देते हैं, यानी कि एक सुखद एहसास को जबरन करने से एक भयानक अनुभव बनते देर नहीं लगती.

बेहतर यही होगा कि डिप्रेशन का शिकार होने के बजाय एक निश्चय के साथ पति को सेक्स के लिए न कह दें और Emotionally  या  Physically Hurt होने के लिए स्वयं को मजबूर न करें.

शरीर आपका है तो फैसला लेने में हिचकिचाहट क्यों…सेक्स भय का प्रतीक बन आपकी मैरिड लाइफ को बर्बाद कर दे, उससे पहले ही जर्बदस्ती सहना बंद कर दें.

 

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें