72th INDEPENDENCE DAY 2018- लाल किले के प्राचीर से महिलाओं से जुड़े मुद्दे पर ये सब बोले पीएम मोदी …

537
72th Independence Day
72th Independence Day- Narendra Modi speech at Red Fort

आज 72th Independence Day है और आज पूरे देश में जश्न का माहौल है. 72th Independence Day के मौके पर लाल किले (Red Fort) के प्राचीर से Prime Minister Narendra Modi ने देश को संबोधित किया और महिलाओं से जुड़े कई अहम मुद्दों पर जोर दिया.

क्या है प्रधानमंत्री के भाषण के अहम मुद्दे




1-72th Independence Day पर प्रधानमंत्री ने कहा कि Triple Talaq की कुरीतियों ने हमारे देश की कई मुस्लिम बहनों की जिदंगी बर्बाद कर दी है. हमने इस सत्र में इसको लेकर संसद में बिल लाने का काम किया लेकिन कुछ लोग अभी इसे पास नहीं होने दे रहे हैं.

MUST READ : मछली बेचकर पढ़ाई का खर्च निकालने पर हुई ट्रोल, अब HANAN ने किया RAMP WALK

लेकिन मैं देश की पीड़ित माता बहनों और बेटियों को विश्वास दिलाता हूं कि मैं उनके हक और उन्हें न्याय दिलाने के लिए आपके साथ खड़ा रहूंगा. आपको जरूर न्याय दिलाऊंगा.




2- 72th Independence Day पर प्रधानमंत्री ने कहा कि  हमारे लिए Rule of Law  सुप्रीम है. किसी को कानून हाथ में लेने का हक नहीं है. हमारे बच्चों की परिवरिश ऐसी हो, जिसमें महिलाओं के सम्मान की बात हों. हमे अच्छे संस्कार देने होंगे.

 

READ THIS: महिलाओं के कंधों पर ही क्यों है HOUSE WORK की ज्यादातर जिम्मेदारियां?

उन्होंने समाज में बढ़ते Rape की घटनाओं पर कहा कि राक्षसी प्रवृति की मानसिकता वाले लोग बलात्कार जैसा गलत काम कर रहे हैं. यह पीड़ादायक है और समाज को इससे मुक्त करना होगा. Rapist को सख्त सजा मिल रही है.
Rapist को सख्त सजा मिल रही है. पिछले दिनों मध्यप्रदेश में बलात्कार के आरोपी को  Fast Track Court ने पांच दिन में फांसी की सज़ा दी गई. बलात्कारियों को फांसी की सजा मिल रही है, यह संदेश जाना चाहिए.




3-उन्होंने ऐलान किया कि भारतीय सशस्त्र सेना में नियुक्त महिला अधिकारियों के लिए पुरुष के समकक्ष पारदर्शी चयन प्रक्रिया के लिए Short Service Commission (शॉर्ट सर्विस कमिशन) में अब महिलाओं की स्थाई रूप से एंट्री मिलेगी. पहले ये लाभ सिर्फ पुरुषों को ही मिलता था.

4-प्रधानमंत्री ने कहा कि आज देश के कई राज्यों की बेटियों ने सात समंदर को पार किया और सभी को तिरंगे से रंग दिया. देश की महिलाएं आज पुरुषों से कंधे से कंधा मिलाकर चल रही हैं. आज देश अनुभव कर रहा है कि खेत से लेकर खेल के मैदानों तक पुरुषों की बराबरी कर रही हैं.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें