किरन बेदी ने कैसे बताया पुडुचेरी रात में भी है महिलाओं के लिए SAFE

1756
किरन बेदी Puducherry
Kiran bedi

पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरन बेदी ने पुडुचेरी को रात में भी महिलाओं के लिए Safe बताया है. बेदी ने शुक्रवार रात स्कूटर की सवार की. वे रात में महिलाओं की सुरक्षा की स्थिति का जायजा लेने निकली थीं. वे स्कूटी पर पीछे बैठी हैं और दुपट्टे से अपना सिर ढंका है. उन्होंने Tweet कर कहा कि यहां की सुरक्षा  व्यवस्था ठीक है लेकिन वे इसे और दुरस्त करने के लिए पुलिस को कुछ और सुझाव देंगी.




किरन बेदी ने दो फोटो के साथ Tweet कर कहा है कि पुडुचेरी को मैंने रात को सुरक्षित पाया. लेकिन हम लोगों को पीसीआर और 100 नंबर से जोड़ने के लिए और काम करेंगे. पहले फोटो में वे रात में एक स्कूटी पर सवारी कर रही हैं और अपना चेहरा दुपट्टे से ढंका है. वहीं दूसरे फोटो में वे साईकिल चला रही हैं-लिखा है “From a midnight incognito#Suraksha PuducherryRound to the 6 AM weekend#Swachh Round




MUST READ: ये सड़कें रात में क्या इसलिए UNSAFE नहीं कि हम निकलते ही नहीं?

 

Tweet के बाद उन्होंने मीडिया को दिए अपने संदेश में कहा कि अभी तुरंत स्कूटी की सवारी करके नाइट राउंड से वापस आई हूं. मैं देखना चाहती थी कि यदि रात में महिलाएं सार्वजनिक स्थानों पर निकलती हैं तो वे खुद को कितना सुरक्षित पाती हैं? मैंने पाया कि पुडुचेरी रात में भी महिलाओं के लिए सेफ है. लेकिन मैं पुलिस को कुछ और सुझाव दूंगी जिससे कि लोगों को और  सुरक्षित माहौल मिले. अपराध को रोकने के लिए पुलिस की मौजूदगी ऐसे स्थानों पर होनी चाहिए.  उन्होंने कहा कि मैं ऐसे सरप्राइज देती रहूंगी.




पूर्व आईपीएस ऑफिसर किरन बेदी महिला सुरक्षा को लेकर हमेशा मुखर रही हैं. हाल में ही चंडीगढ़ के वर्णिका मामले में उन्होंने ही सबसे पहले अपनी प्रतिक्रिया दी. उन्होंने वर्णिका के रात में निकलने को लेकर सवाल उठाने वाले भाजपा नेताओं का भी विरोध किया. उन्होंने मामले को गंभीरता से नहीं लेने के लिए भी चंडीगढ़ पुलिस की भी आलोचना की थी. 

‘मेरी रात-मेरी सड़क’ का नारा देकर NIGHT में क्यों निकलीं महिलाएं ROAD पर?

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे…