दिल्ली में CAB-AUTO की पिछली सीट पर VEHICLE REGISTRATION NO लगाना क्यों जरुरी होगा?

51
Vehicle Registration No
Representational Image (Pik Courtesy: Timesgroup)

दिल्ली में Cab- Auto की पिछली सीट पर Vehicle Registration No. लगाना जरुरी कर दिया गया है. इस आदेश के पालन के लिए कैब, टैक्सी और ऑटो चालकों को एक महीने का समय दिया गया है.




दिल्ली में महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराधों के मद्देनजर राज्य परिवहन प्राधिकरण ने यह अहम फैसला लिया है. प्राधिकरण की अधिसूचना में कहा गया है कि  Cab- Auto की पिछली सीट पर वाहन पंजीकरण नंबर लगाना अनिवार्य बना दिया गया है.

नई परमिट नीति के तहत जारी अधिसूचना के अनुसार, मई 2018 से दिल्ली में चलने वाली कैब, टैक्सी और ऑटो चालकों को इसी शर्त पर नए सिरे से परमिट मिलेगा, जब वह अपने वाहन में पीछे वाली सीट पर Vehicle Registration No लगाएंगे.




अधिसूचना में कहा गया कि महिलाओं और बुजुर्गों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया गया है. इसमें कहा गया है कि महिलाओं और बुजुर्गों को इन वाहन में बिठाने के बाद कोई ऐसी हुई जिसकी शिकायत करते समय उनके पास संबंधित वाहन का पंजीकरण नंबर तक नहीं था, क्योंकि पीड़ित वाहन की पीछे वाली सीट पर बैठे  थे और घटना के बाद उन्हें वाहन पंजीकरण नंबर नोट करने का अवसर नहीं मिला.




MUST READ: किस तरह के बदलाव के बाद चंडीगढ़ में मिलेंगी FEMALE CAB DRIVER

नई परमिट नीति के मुताबिक कैब, टैक्सी और ऑटो में आगे के शीशे (विंडस्क्रीन) पर अंदर बाईं तरह वाहन पंजीकरण नंबर चिपकाना होगा. साथ ही कैब और टैक्सी में बाईं सीट के पीछे भी यह नबंर लगाना होगा जिससे यात्रियों को यह नंबर साफ-साफ नजर आए.

(साभार-हिन्दुस्तान)

SEE THIS:  13 साल की उम्र में हुई शादी से निकल कर सेल्वी कैसे बन गईं SOUTH INDIA की पहली महिला CAB DRIVER

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें