PERIOD DATE शादी से मेल खाए तो करें ये 2 उपाय

545
bride softcup
bride softcup
प्रियंवदा सहाय:
 
शादी की तैयारी और उसमें पीरियड का चक्कर रोज़ी को परेशानी में डाल चुका है. वह परेशान है क्योंकि उसकी शादी से Period Date  मेल खा रहे हैं.  एेसे में उसकी चिंता अपने मंहगे लंहगे के दाग़दार होने, पीरियड के समय पेट में होने वाले दर्द, चिड़चिड़ापन और थकान को लेकर है. एेसे में उसकी सहेली नित्या ने उसे डॉक्टर की सलाह लेने का सुझाव दिया. 




 
सहेली के कहने पर रोज़ी स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर नीता जैन से मिलने गई. डॉक्टर जैन ने उसे कुछ सुझाव तो कुछ दवाइयां बताई है जो उसके सबसे ख़ास दिन को यादगार बनाने में मददगार होगी. डॉक्टर की राय में एेसे समय में कुछ दवाइयां ली जा सकती है जिससे पीरियड ख़ास दिन के पहले या बाद में आ सकता है लेकिन इसके लिए डॉक्टर की सलाह पर ही दवाओं का सेवन करना चाहिए. कभी भी दूसरों की सलाह या ख़ुद से दवाएं नहीं ले, क्योंकि इन दवाओं के साइड इंफ़ेक्ट भी हो सकते हैं, मसलन उल्टी होना, चक्कर आना, डिप्रेशन, मुंहासे या फिर दूसरे महीने में काफ़ी ज्यादा मात्रा में पीरियड आना. ग़लत दवाओं के इस्तेमाल अंदरूनी बीमारियों का कारण भी बन जाते हैं. इसलिए नीम हकीम ख़तरे जान करने से बचें.




 

ये 2 उपाय करके आप परेशानियों से बच सकती हैं..

 1-डॉक्टर कहती हैं कि एेसी दवाओं को शादी के दिन से ठीक पहले पीरियड वाले समय पर लेना फ़ायदेमंद नहीं होगा. इसलिये बेहतर यह होगा कि आप कुछ महीने पहले डॉक्टर के पास पहुंचे. अमूमन दो माह पहले डॉक्टर से मिलना ठीक होगा.




 
2-अगर आप ओरल मेडिसिन नहीं लेना चाहती तो सॉफ़्टकप का इस्तेमाल भी कर सकती हैं. सॉफ्टकप सैनिटरी नैपकिन और टैम्पुन से अलग होता है. जिसके इस्तेमाल करने पर पीरियड में निकलने वाला ख़ून एक अर्द्धचंद्राकार कप में जमा हो जाता है. इसे पहनना बहुत मुश्किल नहीं है. यह लंबे समय तक दुल्हन का साथ दे सकता है. इसके इस्तेमाल से शादी  के कपड़े और रस्मों रिवाज में पीरियड की टेंशन भी नहीं रहेगा. हालांकि बेहतर यह होगा कि दवा खाकर पीरियड के डेट बदलने से अच्छा है कि शादी की तारीख़ में बदलाव किया जाय. एेसा करने से ढेर सारी चिंताओं से निजात पाया जा सकता है.
 

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे… 

Facebook Comments