BODY HAIR REMOVE करने के 5 पॉपुलर तरीके

5956
Brazilian hair waxing
Brazilian hair waxing

प्रीति शर्मा:

अगर आप किसी शादी-समारोह, पार्टी-जलसे में जा रही हैं और अपनी पसंदीदा ड्रेस पहनना चाहती हैं तो अक्सर सबसे ज़्यादा परेशान करते हैं आपके स्किन हेयर. महिलाओं की सुंदरता को बरकरार रखने में स्किन हेयर बाधक होते हैं और तमाम इलाजों के बाद भी कोई रास्ता नहीं निकलता. त्वचा हमेशा दमकती रहे और बिल्कुल साफ-सुथरी रहे, यह चाहत हर किसी की होती है. महिलाओं को साफ-सुथरी और चमकती-दमकती त्वचा के लिए सबसे ज्यादा परेशानी चेहरे और हाथ-पांव पर उग आए बाल से होती है.

चेहरे और हाथ-पांव पर नज़र आते इन अनचाहे बालों को हटाने के लिए आप हर तरह की कोशिश करती हैं. बाजार में मिलने वाले हेयर रिमूवल क्रीम और लोशन लगाती हैं अब ब्यूटी प्रोडक्ट्स बनाने वाली कंपनियों के अलावा बहुत से सेलोन, ब्यूटी पार्लर इसी मसले पर फोकस कर रहे हैं क्योंकि उन्हें समझ आता है कि यह ब्य़ूटी प्रोडक्ट्स से भी पहले की ज़रुरत है .

अनचाहे बालों को हटाने के 5 सबसे पॉपुलर तरीके –

 लेजर रेज हेयर रिमूवल-

यदि आप फैशन, ग्लैमर, टीवी, फ़िल्म बिजनेस में हैं या फिर थियेटर और डांस करती हैं तो आपकी स्किन हमेशा दमकती रहनी चाहिए. रैम्प पर उतरने से पहले या पिर किसी भी सीन को करने और उसके लिए ड्रेस से पहले ज़रुरी है स्किन हेयर का नहीं होना और उसके लिए भी  परमानेंट हेयर रिमूवल होना चाहिए. बालों को हमेशा के लिए जड़ से उखाड़ने के लिए लेजर तकनीक काफी प्रचलित है. यह आधुनिक ब्यूटी सैलूनों में डाक्टर्स और  टेक्निशियन की मदद से की जाती है. लेजर किरणों से बालों की जड़ को हमेशा के लिए नष्ट किया जाता है. यह विधि परमामेंट हेयर रिमूवल के लिए सबसे असरदार है. इसे शरीर के किसी भी हिस्से पर इस्तेमाल किया जा सकता है. आजकल इस क्षेत्र में ब्राजीलियन लेजर टेक्नीक सबसे ज्यादा पॉपुलर है .

जिन लोगों की स्किन पतली और बाल ज्यादा घने हों, उनके लिए लेजर हेयर रिमूवल सबसे अच्छा रास्ता है. इसका असर 6 महीने से लेकर एक साल तक रहता है. लेजर ट्रीटमेंट में बीस से तीस हजार रुपये तक खर्च होते हैं,लेकिन कई बड़े ब्यूटी पार्लर्स में  पूरे शरीर के हेयर रिमूवल पर एक लाख रुपए तक खर्च करने पड़ेंगें .

इलेक्ट्रोलाइसिस-

बालों का हमेशा के लिए हटाने के लिए इलेक्ट्रोलाइसिस भी काफी पॉपुलर है. ट्रेंड एक्सपर्ट इस तकनीक में बालों की जड़ों के टिश्यूज और कोशिकाओं के अंदर इलेक्ट्रिक करंट पास करते हैं और उससे बालों की जड़ को नष्ट किया जाता है.

इलेक्ट्रोलाइसिस चेहरे पर होंठ के उपरी भाग यानी अपर लिप्स और चिन पर उगे अवांछित बालों को उखाड़ने का कारगर तरीका है. इसका असर एक से दो हफ्ते तक रहता है. हर दो हफ्ते के बाद इस विधि को दोबारा करना पड़ता है जब तक की बाल जड़ समेत नष्ट न हो जाएं. इलेक्ट्रोलाइसिस के एक ट्रीटमेंट में करीब 1000 रुपये या उससे ज्यादा का खर्च आता है.  

ध्यान रखिए कि  इससे साइड इफेक्ट भी होते हैं. त्वचा पर लाल दाग, त्वचा फूलना और दाग भी हो सकते हैं.

वैक्सिंग-

आजकल जब भी आप टीवी सेट खोंलेंगी तो किसी ना किसी वैक्सिग क्रीम का विज्ञापन आ ही रहा होगा , ज़्यादातर अखबारों में भी इनके विज्ञापनों की भरमार होती है .वैक्सिंग भी अवांछित बालों को हटाने में पापुलर तकनीक मानी जाती है. वैक्सिंग में कॉस्मेटोलॉजिस्ट या ब्यूटीशियन स्किन पर चिपकने वाले वैक्स को फैला देते हैं, फिर उस हिस्से को कपड़े से कवर कर दिया जाता है जब वैक्स पूरी तरह सूख जाता है तो बालों की जड़ को स्किन से काफी तेजी से खींच लिया जाता है इससे सारे बाल झड़ कर बाहर निकल आते हैं.

आजकल मार्केट में उपलब्ध कुछ वैक्स में स्किन को कवर करने की ज़रुरत नहीं होती और वैक्स सूखने के बाद उसे आसानी से खींच लिया जाता है और सारे बाल निकल आते हैं. वैक्सिंग शरीर के किसी भी हिस्से पर किया जा सकता है, मगर यह  अंडर आर्म्स, हैंड-लेग, बिकनी एरिया और अपर लिप्स पर सबसे कारगर होता है. इसका असर असर 3 से 6 हफ्ते तक रहता है. इसमें त्वचा के लाल होने और त्वचा के फूलने जैसे साइड इफेक्ट हो सकते हैं.

शेविंग-

कई जगह जहां वैक्स या और अन्य सुविधा नहीं है वहां महिलाओं के बीच शेविंग अवांछित बालों को साफ करने का आसान जरिया है. हालांकि यह स्थाई रुप से बालों को खत्म नहीं करता है. शेविंग करने से बाल कड़े हो जाते हैं और अगली बार ज्यादा घने बाल निकलते हैं. आजकल बाज़ार में महिलाओं की शेविंग के लिए खासतौर से रेज़र बाज़ार में मिल जाते हैं जिनमें तोड़ा मास्चराइज़र होता है और कट लगने का खतरा कम होता है.

ट्वीज़िंग –

सभी के घरों में ट्वीज़र यानी चिमटी होती है. इसकी मदद से चेहरे पर उग आए बालों को बारी-बारी से जड़ समेत उखाड़ सकते हैं. यह विधि चेहरे के बालों को उखाड़ने के लिए बेहतर है. लेकिन ध्यान रखिए कि अगर ट्वीज़र को अल्कोहल या एंटीसेप्टिक से धो कर इस्तेमाल नहीं किया गया है तो संक्रमण का खतरा रहता है. इस विधि में दर्द काफी होता है और बाल अगर आधे पर ही टूट जाए तो यह दोबारा उग जाते हैं.

Facebook Comments