साध्वी हेमानंद गिरी को मिला मौका तो 1200 साल में पहली बार कोई महिला बनेगी SHANKARACHARYA

3147
Shankracharya
साध्वी हेमानंद गिरी

1200 वर्षों में ऐसा पहली बार हो रहा है कि एक महिला ने Shankaracharya बनने के लिए दावा ठोंका है. उच्च धार्मिक पद की नियुक्ति के लिए प्राप्त 200 आवेदनों में से जिन चार लोगों का नाम शॉर्टलिस्ट किया गया है उनमें एक हैं साध्वी हेमानंद गिरि.




यदि उन्हें यह मौका मिलता है तो यह पहली बार होगा कि इस उच्च धार्मिक पद पर एक महिला बैठेगीं वह भी भारत से बाहर की. साध्वी हेमानंद गिरी नेपाल की महिला संन्यासी में से एक है.




MUST READ: भारत की FIRST WOMAN PHOTOJOURNALIST होमी व्यारावाला को गूगल ने कैसे किया याद?

वे कई अखारों की वरिष्ठ संन्यासी हैं और नेपाल के झापा जिले के गौरीगंज में वैदिक सूर्य शिवनय मठ की प्रमुख हैं. उन्हें शंकराचार्य की उपाधि हासिल करने के लिए मजबूत दावेदारों में एक गिना जा रहा है.




शंकराचार्य की नियुक्ति भारतीय साधुओं की एक सर्वोच्च संस्था भारत धर्म महामण्डल और काशी विद्वतपर्षद करती है.आदित्य शंकराचार्य की लिखी पुस्तक Mahanushasan में उल्लिखित दिशा-निर्देशों का पालन भारत धर्म महामंडल करते हैं.

ज्योतिर्मठ में एक शंकराचार्य की नियुक्ति की प्रक्रिया इलाहाबाद उच्च न्यायालय के आदेश के बाद शुरू हुई जिसमें भारत धर्म महामण्डल और काशी विदपतिपर्षद से पूछा गया कि शेष तीन शंकराचार्यों के साथ चर्चा के बाद ज्योतिष पीठ का नेतृत्व करने के लिए एक योग्य संत का चयन करें.

MUST READ: प्रदर्शन पर रोक के बाद भी कैसे दिव्या भारती की ‘KAKKOOS’ हो गई यूट्यूब पर हिट?

8 वीं शताब्दी में दार्शनिक और आध्यात्मिक विचारक आदि शंकर ने हिंदुत्व के चार उच्चतम पीठों की स्थापना की. पिछले 1200 सालों से इनमें से प्रत्येक मठ जैसे श्रृंगेरी मठ, गोवर्धन मठ, शारदा मठ और ज्योतिर्मठ का नेतृत्व एक धार्मिक नेता करते हैं जिन्हें शंकराचार्य कहा जाता है.

श्रृंगेरी मठ भारत के दक्षिण में चिकमंगलुुुर में और गोवर्धन मठ भारत के पूर्वी भाग के उड़ीसा के जगन्नाथपुरी में स्थित है. वहीं शारदा (कालिका) मठ गुजरात के द्वारकाधाम में और ज्योतिर्मठ उत्तरांचल के बद्रीनाथ में है.

Read More:

कई बंधनों को तोड़ कर उन्होंने कैसे बजा दिया पुरुषों का BAND?

‘पद्मावती’ को इस तरह दिखाए जाने के खिलाफ हैं राजस्थान के FORMER ROYAL FAMILY की बहू-बेटियां

“SHe BOX’ मेंअब प्राइवेट सेक्टर की महिलाएं भी कर सकेंगी में दफ्तरों में होने वाले यौन उत्पीड़न की शिकायत

जानिए भारत की उन 5 महिलाओं को जिन्हें FORBES LIST में किया गया शामिल

कृष्ण को CENTRE OF GRAVITATION क्यों मानते हैं हम?

MAA DURGA की पूजा में लाल रंग का खास महत्व क्यों है ?

 

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें

 

Facebook Comments