किस तरह के बदलाव के बाद चंडीगढ़ में मिलेंगी FEMALE CAB DRIVER

1007
Female Cab Driver
Women Cab Drivers (representational Image) Pik Courtesy:ED Times

यदि आप चंड़ीगढ़ जा रही हों या वहीं रहती हों और अपने सफर को सुविधाजनक बनाने के लिए आप चाहती हों कि आपकी कैब को एक महिला ही चलाएं तो जल्दी ही यह संभव होगा. महिलाओं को सुरक्षित सफर मुहैया कराने के लिए जल्दी ही चंडीगढ़ की सड़कों पर Female Cab Driver दिखने लगेंगी.




Cab में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए चंडीगढ़ प्रशासन वेब बेस्ड टैक्सी सर्विस की पॉलिसी में बदलाव करने जा रहा है. चंडीगढ़ में मौजूदा समय में ओला-उबर में कंपनिया क़रीब ढ़ाई हजार से ज्यादा कैब चल रही है लेकिन एक में भी महिला ड्राइवर नहीं है.




MUST READ: 13 साल की उम्र में हुई शादी से निकल कर सेल्वी कैसे बन गईं SOUTH INDIA की पहली महिला CAB DRIVER

कई बार महिलाएं रात में अकेले या बच्चों के साथ सफर करती हैं और उनकी सुरक्षा को खतरा रहता है. कैब में अकेले सफर करने वाली महिलाओं के साथ छेड़खानी जैसी घटनाएं होने की भी शिकायतें आती रहती हैं. ऐसे में महिलाएं कैब में अकेले सफर करने से डरती और कतराती है.




MUST READ: इंदौर में ‘WOMEN ON WHEELS’ , ‘ऑन कॉल’ हाजिर और सुरक्षित घर पहुंचाने में माहिर

शहर के एडवोकेट अजय जग्गा ने प्रशासन के सामने यह मामला उठाया था कि कैब में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए इस तरह के प्रयास किए जाने जिससे महिलाओं को सफर के दौरान किसी तरह की परेशान नहीं हो.

READ THIS: MANJUBEN-हाईवे पर सड़कों से बातें करता है गुज़रता है उनका ट्रक

प्रशासन यह व्यवस्था करने जा रहा है कि टैक्सी सर्विस चलाने वाली कंपनियां शुरुआत में शहर में कम से कम 50 ऐसे कैब शुरु करे जिसमें Female Driver हो. ऐसा होने से फीमेल पैसेंजर के पास यह विकल्प रहेगा कि वे किस तरह का कैब चाहती हैं.

READ MORE: रोशनी मिस्बाह जिन्हें लोग HIJABI BIKER कहकर पुकारते हैं

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें