अब केवल कपड़ा मंत्रालय की जिम्मेदारी, I&B MINISTRY से क्यों हटाई गईं स्मृति ईरानी

935
I&B Ministry
Smriti Irani removed from I&B ministry

भारतीय जनता पार्टी की तेज-तर्रार नेता माने जाने वाली स्मृति ईरानी से I&B Ministry (सूचना और प्रसारण मंत्रालय) छीन लिया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को कई केंद्रीय मंत्रियों के विभागों में बदलाव किए हैं. इसमें सबसे ज्यादा चौंकाने वाला फैसला रहा स्मृति ईरानी से I&B Ministry का वापस लेना.




Smriti Irani के जूनियर रहे राज्यवर्धन सिंह राठौर का सूचना एवं प्रसारण की स्वंतत्र रुप से जिम्मेदारी सौंपी गई हैं. स्मृति मंत्रालय के पास अब केवल कपड़ा मंत्रालय (Textiles Ministry) का भार रहेगा. इससे पहले विश्वविद्यालयों में प्रदर्शन को लेकर स्मृति से मानव संसाधन विकास मंत्रालय वापस ले लिया गया था.

स्मृति ईरानी से सूचना और प्रसारण मंत्रालय वापस लेने की क्या है वजहें…

1-स्मृति ईरानी और उनके मंत्रालय से जुड़ा ताजा विवाद राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से जुड़ा है. राष्ट्रपति के हाथों अवार्ड नहीं दिए जाने की पूर्व सूचना नहीं दिए जाने की वजह से 70 राष्ट्रीय फिल्म विजेताओं ने कार्यक्रम का बहिष्कार कर दिया.




READ THIS: 65th NATIONAL FILM AWARDS के फंक्शन में स्मृति ईरानी के झुमके पर क्यों पड़ गई मीडिया की नजर

इस मामले में राष्ट्रपति भवन की फजीहत हुई और राष्ट्रपति भवन की ओर से कहा गया कि सूचना और प्रसारण मंत्रालय को यह पहले ही बता दिया गया था कि राष्ट्रपति सभी विजेताओं को अवार्ड नहीं दे पाएंगे.

यह मामला प्रधानमंत्री तक पहुंचा. माना जा रहा है कि स्मृति ईरानी से मंत्रालय वापस लिए जाने के पीछे यह सबसे बड़ा कारण बना क्योंकि इस विवाद के छींटे राष्ट्रपति भवन तक भी पहुंच गए थे.




2-इससे पहले फेक न्यूज के मामले में भी मंत्रालय की फजीहत हुई. स्मृति ईरानी ने यह फैसला किया कि फेक न्यूज पर पत्रकारों का PIB Accreditation रद्द कर दिया जाएगा. पत्रकारों का विरोध शुरु हुआ तो तो प्रधानमंत्री ने तुरंत इस मामले पर हस्तपेक्ष किया और मंत्रालय को यह फैसला वापस लेना पड़ा.

3-चुनाव से ऐन पहले IAS अधिकारियों के तबादले से कैडर में नाराजगी फैल गई. माना गया है कि अधिकारियों ने इसकी शिकायत प्रधानमंत्री कार्यालय तक भी पहुंचाई.

SEE THIS: कौन है MRIGANKA SINGH जिसे भाजपा ने बनाया उप्र के कैराना लोकसभा सीट का उम्मीदवार

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें