कैंप पर दंगल- PHOGAT SISTERS को क्यों होना पड़ा ASIAN GAMES के कोचिंग कैंप से बाहर?

954

Phogat Sisters यानी गीता, बबीता, रितु और संगीता को Asian Games के कोचिंग कैंप से बाहर होना पड़ा है.  Phogat Sisters समेत 13 रेसलर कोचिंग कैंप से बाहर किए गए हैं. अनुशासनहीनता के कारण इन रेसलरों को कोचिंग कैंप से निकाल दिया गया है.




Wrestling Federation of India (भारतीय कुश्ती महासंघ ) ने इन सभी Wrestlers को नोटिस जारी किया है. ये रेसलर्स बिना किसी सूचना के एक सप्ताह तक कोचिंग कैंप में नहीं पहुंचे हैं. फेडरेशन का कहना है कि इन रेसलर्स को जायज कारण बताना होगा कि वे कैंप में क्यों नहीं पहुंचे है?

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक 20 मई तक गर्दन की चोट के कारण छुट्टी लेने वाली रेसलर साक्षी मलिक गुरुवार को कैंप में पहुंच गई लेकिन फोगाट बहनें गीता, बबीता, रितु और संगीता समेत करीब 13 रेसलर कैंप में नहीं आए.

फेडरेशन के अध्यक्ष Brij Bhushan Sharan Singh का कहना है कि नेशनल कैंप के चुने गए  Wrestlers को तीन दिन के भीतर कैंप में उपस्थित होना था, लेकिन जिन्हें नोटिस जारी किया गया है कि वे फिलहाल कैंप से बाहर हैं.

READ THIS: डीयू में एडमिशन के लिए ENTRANCE EXAM 17 से 21 जून तक

उनके मुताबिक अनुशासनहीनता के कारण ऐसा किया गया हैं वे आए और कारण बताएं. यदि उन्हें कोई समस्या है तो उन्हें अपने कोच को कहकर उसका समाधान निकालें.




नेशनल कोच कुलदीप मलिक की रिपोर्ट के आधार पर फेडरेशन ने रेसलर्स पर कार्रवाई की है. कुलदीप मलिक का कहना है कि कैंप में खिलाड़ियों को तीन दिन के भीतर रिपोर्ट करना होता है या नहीं पहुंचने का कारण देना होता है.

एशियन गेम्स के और विश्व चैंपियनशिप के लिए सीनियर महिला पहलवानों का कैंप 10 मई से साईं सेंटर लखनऊ में शुरु होना था. यहां देश भर से 53 रेसलर्स को पहुंचना था. 34 रेसलर्स पहुंची और कुछ ने नहीं पहुंचने का कारण भी बताया.




SEE THIS: मानो लय और गति साथ ले कर पैदा हुई थीं MRINALINI SARABHAI, गूगल ने DOODLE बनाकर किया याद

फोगाट बहनों समेत 13 रेसलर्स ने कोई कारण भी नहीं बताया. समय पर इन महिला पहलवानों के नहीं पहुंचने के कारण कैंप समय पर शुरु नहीं हो सका. पुरुष पहलवानों के लिए ऐसा ही कैंप सोनीपत में चल रहा है.

लखनऊ में आधी-अधूरी तैयारी के साथ 13 मई से कैंप शुरु हुआ. नेशनल कोच ने इस मामले गंभीरता से लिया और इसकी सूचना फेडरेशन को भेजी. फेडरेशन ने अब उनसे जवाब मांगा है और फोगाट बहनों समेत 13 रेसलर्स के अगले महीने एशियाई खेलों के लिए होने वाले ट्रायल में हिस्सा लेना मुश्किल लग रहा है.

मीडिया रिपोर्टस में कहा गया है कि जब इस बारे में बबीता फोगाट से पूछ गया तो उन्होंने कहा कि मुझे कोई नोटिस नहीं मिला है. मैं घुटनों में चोट के कारण कैंप में नहीं गई और इसकी सूचना फेडरेशन को नहीं दे पाई.

वहीं Phogat Sisters के पिता और द्रोणाचार्य अवार्ड महाबीर फोगाट को कहना है कि उनकी बेटियां कैंप में क्यों नहीं गई हैं यह उन्हीं से पूछा जाना चाहिए. एशियन गेम्स इस साल सितंबर-अक्तूबर में इंडोनेशिया में आयोजित होने वाला है.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें