सरोज चौधरी से क्यों खौफ़ खाते है CRIMINALS

23
Saroj Chaudhary
Saroj Chaudhary

माधुसिंह गोरा:

राजस्थान में महिलाएं खाकी का गौरव बढ़ा रही हैं क्योंकि उनके जूनून और जज्बे से आमजन में पुलिस के प्रति भरोसा कामम हो रहा है. ऐसी ही कोशिश में जुटी है धुन की पक्की जोधपुर जिले के आसोप पुलिस चौकी की कमान संभाल रहीं सब इंस्पेक्टर Saroj Chaudhary . इनका खौफ Criminals में और जनता को उन पर पूरा भरोसा है. अपराध पर लगाम लगाने के लिए इनके काम और एक्शन ने इन्हें दबंग लेडी पुलिस के उपनाम से पहचान दी है. सरोज चौधरी ने साबित कर दिया है कि अगर मन में कुछ कर गुजने का जज्बा हो तो नामुमकिन कुछ भी नहीं.




MUST READ: प्रीता भार्गव मर्दों की जेल में वे कैसे बन गई पहली LADY DIG

 

दरअसल सरोज चौधरी के इलाके में चोरी की घटनाएं खूब होती थी. लेकिन उन्होंने ऐसी घटनाओं पर इस तरह लगाम कसा है कि को अपराधियों में कानून का खौफ कायम हो रहा है. इलाके में लगातार बढ़ रही चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने के साथ ही क्षेत्र में हुई बड़ी चोरियों के मामलों का पर्दाफाश करने के कारण पुलिस महकमे के साथ साथ पूरे इलाके में उनकी चर्चा होने लगी है.




MUST READ: न्यूयार्क जैसी WOMAN POLICE IN BLUE उदयपुर में कैसे?

 

जोधपुर जिले के आसोप चोकी प्रभारी सब इंस्पेक्टर सरोज चौधरी ने अपने कार्यभार संभालने करने के 6 महीने के अंदर इस क्षेत्र में चोरी के कई मामले सुलझा चुकी हैं. साथ ही चोरी की दो बड़ी घटना के लिए अनपी जान जोखिम में डालकर उनका पर्दाफाश करने में चौधरी ने सक्रिय भूमिका निभाई.  बहुचर्चित रड़ोद लूट प्रकरण में सब इंस्पेक्टर सरोज चौधरी को दिल्ली व हरियाणा तक कई बार जाना पड़ा. अपनी जान जोखिम में डालकर अपराधियों को गिरफ्तार कर सलाखों में पहुंचा दिया. वहीं एक-दो महीने पहले मंगेरिया लूट प्रकरण के मामले का भी तुरन्त पर्दाफाश आरोपी को पकड़ा और चोरी का पूरा माल बरामद कर पुलिस की साख को मजबूत किया. अपने क्षेत्र में ऐसे तेजतर्रार पुलिस अधिकारी को देखकर लोगों में पुलिस और कानून-व्यवस्था के प्रति भरोसा कायम होने लगा है. 

(सौजन्य-फोकस भारत)




Facebook Comments