WORKING MOTHER को क्यों नहीं होता खुद से भी प्यार?

20
Working Mother
working mother (Pik courtesy: cnbc.com)

संयोगिता कंठ:

महिलाओं को ईश्वर ने एक खास वरदान दिया है. वे घर और बाहर दोनों की जिम्मेदारियां बखूबी निभा सकती हैं. लेकिन इस चक्कर में कई बार Perfect Women के तौर पर अपनी पहचान बनाना चाहती हैं.  खासकर Working Mother तो इस कारण बहुत स्ट्रेस में रहती हैं और खुद को भूल ही जाती हैं.




यह समझना नहीं चाहिए कि दुनिया का कोई भी शख्स परफेक्ट नहीं होता, तो Working Mother कैसे हो सकती हैं? यही बात समझते नहीं कि घर और नौकरी के बीच संतुलन बनाने के लिए खुद को जरुरत से ज्यादा झोंक देते हैं. दूसरों की अपेक्षा पर उतरने के लिए, हमेशा उनको खुश रखने के लिए अपनी उपेक्षा करने लग जाते हैं.




जर्नल ऑफ हैप्पीनेस स्टडीज नाम की एक पत्रिका में प्रकाशित एक नए स्टडी के मुताबिक कामकाजी मांएं घर, परिवार और नौकरी के बीच संतुलन बनाने की कोशिश में वे अपने लिए ज्यादा ही सख्त हो जाती हैं. वे खुद को नज़रअंदाज करने लगती हैं और यह भूल जाती हैं कि दूसरों को प्यार बांटने के साथ-साथ खुद से भी प्यार करना जरुरी है.




126 मांओं पर किए गए स्टडी में यह नतीजा निकाला गया है. स्टडी में कहा गया है कि खुद के साथ की गई सख्ती के कारण से Working Mother खुद से अपनी खुशियां से छीन लेती हैं.

क्या करें Working Mother?

वर्किंग मदर के लिए घर, परिवार, बच्चे और नौकरी के बीच सामंज्सय एक चुनौतीपूर्ण काम होता है. उन्हें लगता है कि वे नौकरी करती हैं इसलिए घर या परिवार के किसी भी काम में चूक हो गई तो लोग उसे दोष देंगे. इस कारण वे बुरी तरह से काम से घिरी रहती हैं और अपने लिए वक्त ही नहीं निकाल पाती…

ऐसे में क्या करें कि ऐसी मांएं भी खुश रहें…

1-अपने लिए वक्त निकालिए.

इसके लिए जरुरी नहीं कि आप घंटे-दो घंटे खर्च करें, सुकून से बिताने के लिए कुछ पल चुराइए. ये आपको तरोताज कर देंगे.

2-ग्लानि मत रखिए

आप नौकरी करती हैं इसलिए घर-परिवार और बच्चों से दूर रहना पड़ता है. इस बात की ग्लानि मत रखिए. नौकरी करना हर आधुनिक वक्त की जरुरत है. फिर आपमें क्षमता और हुनर है तो उसे निखारने का मौका मिलना ही चाहिए. ग्लानि मत रखिए, आपके बच्चे आत्मविश्वासी बनेंगे.

3-अपनी प्राथमिकताएं तय करें

Working Motherअपने रोजना के काम को सूचीबद्ध करें. प्राथमिकता तय करें कि कौन सा काम जरुरी है कौन सा नहीं? कई बार ऐसी महिलाएं घर और बाहर के सारे कामों की जिम्मेदारी खुद ही ले लेती हैं. घर के दूसरे सदस्यों को भी कुछ काम दीजिए. इससे आपका बोझ थोड़ा हल्का होगा.

4-अपने शौक को भी पूरा कीजिए

Working Motherआप हमेशा दूसरों की खुशियों के लिए जुटी रहती हैं. कभी अपने शौक भी पूरे करिए. छुट्टी के दिन या जब भी मौका मिले तो वैसे शौक पूरे करें जो आपको पसंद हो, जैसे संगीत सुनना, फिल्में देखना, किताबें पढ़ना या कहीं घूमने जाना..

इस तरह आप दूसरों की खुशियों का ख्याल रखते हुए खुद से भी प्यार कर सकती हैं.

Read More:

“मां” WORLD के किसी भी कोने की हो, बच्चा रोए तो गोद में उठा ही लेती है

क्या आपको भी DISCOUNT के कारण शॉपिंग की आदत पड़ गई है?

FEMALE TRAVELLER जब अकेले ट्रैवल करें तो इन 5 बातों का ध्यान रखें

सिल्क की साड़ी में लगे STAINS को मिटाने के लिए करें ये 3 उपाय

लड़का-लड़की के कुंडली मिलाने से ज्यादा जरुरी क्यों है MEDICAL TEST कराना

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें