‘WE THE WOMEN’ कार्यक्रम में क्या याद कर छलका MITALI RAJ का दर्द ?

1232
Mitali Raj
Mitali Raj

मुंबई में हुए ‘We The Women’ कार्यक्रम के दौरान भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान Mitali Raj का दर्द छलक पड़ा. भारतीय महिला क्रिकेट टीम को वर्ल्ड कप 2017 की फाइनल में ले जाने वाली भारतीय टीम की कप्तान  मिताली ने यहां तक के करियर में उठाए गए संघर्ष की कहानी का खुलासा करते हुए बताया कि किस तरह वो ट्रेन में बिना रिजर्वेशन वाली सीट पर बैठकर खेलने जाया करती थी.




WeTheWomen

मिताली ने कहा हमें एक खिलाड़ी के रुप में मूलभूत सुविधाएं भी नहीं दी जाती थी. उन दिनों महिला क्रिकेट टीम बीसीसीआइ के तहत नहीं आता था. भारतीय क्रिकेटर के रुप में मैंने हैदराबाद से दिल्ली तक की यात्रा अनारक्षित सीट पर की है. पुरुषों के साथ ऐसा कभी नहीं हुआ.




MUST READ: मिताली बनीं WOMEN’S ODI में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली CRICKETER

मिताली ने कहा कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा था कि एक भारतीय खिलाड़ी के तौर पर उन्होंने कभी ट्रेन में सफर नहीं किया लेकिन मुझे करना पड़ा. इन संघर्षों से हमें और मजबूती मिली. महिला क्रिकेटर के रुप में हमें इतनी चुनौतियों का सामना करना पड़ा कि हम परिपक्व हो गए और चुनौतियों को स्वीकार किया. इसलिए हम मानसिक रुप से भी मजबूत हुए और हम कुछ भी कर सकते हैं.




मिताली ने अपने घर की परिस्थिति को भी याद किया और बताया कि किस तरह मेरे इस खेल से जुड़ने को लेकर दादा दादी असहज थे. उन्होंने कहा कि मैं दक्षिण भारत से हूं इसलिए वो मेरे क्रिकेट खेलने से सहमत नहीं थे. हालांकि मेरे माता पिता ने एक क्रिकेटर बनने में मेरा काफी साथ दिया .

आज मिताली टेस्ट और वनडे की दुनिया में सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज के रुप में पहचानी जाती हैं. मिताली राज एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाली वर्ल्ड की पहली महिला क्रिकेटर हैं .उनका इंग्लैंड के खिलाफ बनाया गया 214 रन का स्कोर टेस्ट क्रिकेट का दूसरा सबसे बड़ा स्कोर है.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें

Facebook Comments