किचन में MUSIC क्यों मन खुश कर देता है?

0 views
Women listening music in kitchen
Women listening music in kitchen

संयोगिता कंठ:

‘पिया का घर है ये रानी हूं मैं…..रानी हूं इस घर की’ क्या आप भी अक्सर किचन में  यह गीत गुनगुनाती हैं, या रेडियो पर बज रहे किसी और music का लुत्फ लेते हुए खाना बनाया है? यदि आपका जवाब हां में है तो आप खुशमिजाज महिला है और खाने में अपनी खुशी का जायका जरुर ले कर आती होंगी. यदि आप नहीं में जवाब देने जा रही हैं तो अब जान लीजिए कि म्यूजिक दिन भर की भागदौड़ के बाद आपके मन-मस्तिष्क को तरोताज़ा बना देता है. यानि आप तनावमुक्त रहेंगी और आप ने जो भी बनाया आपके घरवाले उसे बहुत ही प्यार से खाएंगे.




हम बताते हैं कि आपको कि किचन में music का लुत्फ उठाते हुए खाना बनाने में  कितना मज़ा आता है.

खाना पकाना एक कला है, लेकिन यदि आप तनावग्रस्त हो कर बनाएंगी तो ताजी सब्जियों और ताजे अनाज और खूब बढ़िया मसालों का इस्तेमाल करने पर खाना बेमजा लगेगा. लेकिन यदि आप कोई गीत-संगीत सुनते हुए खाना बनाएंगी तो आपके खाने के स्वाद को दोगुना कर देगा. Music तनाव के स्तर को कम करता है. यह हमारे अंदर तल्लीनता लाता है और हमारे मन को खुश रखता है.




कई मनोवैज्ञानिकों का मानना है कि music हमारे अंदर के तनाव को या तो बेहद कम कर देता है या छू मंतर कर देता है. इससे आप जो भी बनाएंगी उसमें आपके अच्छे और खुश मन का स्वाद मिल जाएगा.




किसी खास म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट की आवाज जैसे बांसुरी, सितार, तबला या कोई भी ऐसा इंस्ट्रूमेंट जो आप भी कभी बजाती थीं या बजाना चाहती हैं या बजा रही हैं  उसे सुने. इससे आपके दिमाग को बहुत आराम पहुंचेगा. Music अकेलेपन के एहसास को कम देती है.  धुन, गाने की लय, गायक-गायिका की आवाज ऐसा महसूस कराएगी मानो आप सबके बीच में हों. यह एहसास आपके मूड को खुशनुमा बना देती है.

तो किचन को म्यूजिक से खुशनुमा बनाने के लिए क्या किया जाए?

बेहद आसान उपाय है. अपने किचन या घर में आप जहां भी चाहें एक रेडियो या म्यूजिक सिस्टम रखें. जब भी किचन में खाना बनाने जाएं तो अपना पसंदीदा संगीत बजा लें.

यह कुछ भी हो सकता है, भजन, गजल, फिल्मी रोमांटिक गाने, कव्वाली या वो सब संगीत जो आपको पंसद हो. तो गुनगुनाइए और खूब खिलाइए…….

Facebook Comments

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here