पुरुषों के मुक़ाबले महिलाओं को क्यों है HEART DISEASE का खतरा ज्यादा?

2139
Heart Disease
heart disease risk in women

पुुरुषों के मुक़ाबले महिलाओं में हृदय रोग (Heart Disease) होने का खतरा ज्यादा है. महिलाओं में अपनी सेहत के प्रति लापरवाही और खानपान में अनियमितता जैसे कारण दिल की बीमारी की आशंका होती है, लेकिन मानसिक तनाव के कारण यह आशंका कई गुणा ज्यादा होती है.




जार्जिया स्थित ईमोरी यूनिवर्सिटी (Georgia Emory University) में हुए एक शोध में यह बात सामने आई है. यह शोध हार्ट अटैक झेल चुकी मरीजों के आंकड़ों पर अध्ययन किया गया. यह शोध अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन में प्रकाशित हुआ है.




MUST READ: कहीं आपके BACKHeaACHE यानी पीठ दर्द का कारण ये तो नहीं?

अध्ययन में बताया कि मानसिक तनाव के कारण मायोकार्डियल इस्कीमिया की समस्या हो जाती है. इसके कारण दिल की मांसपेशियों में रक्त का प्रभाव असंतुलित हो जाता है. शोध में कहा गया है कि दिल की बीमारी से जूझ रही महिलाओं को उससे उबरने के लिए बहुत देखभाल की जरुरत पड़ती है.




दिल को स्वस्थ रखने के लिए क्या करें?

एक अनुमान है कि दुनिया भर में हर साल हर तीन में से एक महिला की मौत हृदय रोग और आघात के चलते होती है. बढ़ते उम्र के साथ हृदय रोग का खतरा भी बढ़ता है. 60 या उससे अधिक उम्र की महिलाएं को ह्रदय रोग का खतरा ज्यादा होता है लेकिन यदि खानपान और जीवनशैली में कुछ बदलाव किए जाएं तो इससे बचा जा सकता है.

READ THIS: FIT रहने के लिए रोज घर का काम खुद से करना क्यों है अच्छा?

 Heart Disease

1-रोज एक्सरसाइज करें और अपनी शारीरिक गतिविधि बढ़ा दें.

2-कम फैट वाला खान खाएं

3-ब्लडप्रेशर और डाइबिटीज जैसी बीमारियों से दूर रहने की कोशिश करें

Heart Disease4-समय-समय पर कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर की जांच कराती रहें.

5-धूम्रपान या शराब का सेवन नहीं करें.

MUST READ:

फिट रहने के लिए BLOOD GROUP के अनुसार लें डाइट

BREAST CANCER से बचने के लिए क्या आपने किया ये टेस्ट?

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें