बड़ी चुनौती- 15 से 49 उम्र की 51 फीसदी भारतीय महिलाएं ANAEMIC , तो बढ़ रही है मोटापे की बीमारी भी

1127

भारतीय महिलाएं स्वास्थय और पोषण के मामले में गंभीर और बड़ी चुनौती का सामना कर रही हैं. स्थिति बेहद चिंताजनक बन गई है. दुनिया भर से तुलना की जाए तो भारत में Anaemic महिलाओं की संख्या सबसे ज्यादा है. 15 साल से लेकर 49 की उम्र की क़रीब 51 फीसदी महिलाएं Anaemic हैं. लेकिन दूसरी तरफ महिलाओं में मोटापे की बीमारी भी तेजी से फैल रही है. 




यह चिंताजनक नतीजा निकल कर आया है Global Nutrition Report 2017 में. रिपोर्ट में एनिमिक महिलाओं की सबसे ज्यादा संख्या होने के कारण भारत को सबसे निचले पायदान पर रखा गया है. 

MUST READ: YOGA से कैसे करें THYROID पर कंट्रोल ?

 

रिपोर्ट के मुताबिक भारत में 15 साल से लेकर 49 साल की उम्र की क़रीब 51 फीसदी महिलाएं एनिमिया यानी खून की कमी से जूझ रही हैं. रिप्रोडक्टिव एज में महिलाओं में पोषण की कमी से बच्चों के स्वास्थय पर भी इसका असर पड़ने की आशंका रहती है, वहीं हर पांच में से एक महिला ओवरवेट है. ऐसी महिलाओं की तादाद 22 फीसदी है.




दुनियाभर की 140 देशों की महिलाओं की स्वास्थय की स्थिति की जांच के बाद यह रिपोर्ट सामने आई है. पिछले साल मई में जेनेवा में हुए वर्ल्ड हेल्थ असेंबली (WHA) में इस पर चर्चा हुई थी. महिलाओं में एनिमिया का होना दुनियाभर की समस्या बनी हुई है.

MUST READ:  महिलाएं जब RELATIONSHIP में होती है तो क्यों बढ़ जाता है मोटापा?

 

विशेषज्ञों का कहना है कि बेशक सरकार ने महिलाओं को एनिमिया से बचाने के लिए कई कार्यक्रम चलाएं है लेकिन उन कार्यक्रमों का महिलाओं के स्वास्थय पर इसका कोई खास प्रभाव नहीं पड़ा है. 2016 की इसी रिपोर्ट में 48 फीसदी महिलाओं को एनिमिक पाया गया लेकिन स्थिति सुधरने के बजाए और बिगड़ी है. 




एनीमिया की शिकार महिलाओं को अपने खान-पान पर ज्यादा ध्यान देना होता है. इस समस्या से बचने के लिए खाने में रेड मीट, सी फूड और अंडा फायदेमंद होता है. लेकि‍न शाकाहारी होने पर सोयाबीन, मटर, सूखे मेवे बेहतर विकल्प है. लेकिन जिस देश में कई लोगों को सामान्य भोजन तक नसीब नहीं होता है ऐसे में एमिनिया एक बड़ी चुनौती रहेगी.
 

(साभार-टाइम्स ऑफ इंडिया)

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें

Facebook Comments