BREAST CANCER से बचने के लिए क्या आपने किया ये टेस्ट?

1731
breast cancer

दुनिया भर में Breast Cancer के मामले बढ़ रहे हैं. भारत भी इससे अछूता नहीं है. भारत में एक साल में ब्रेस्ट कैंसर के करीब 1. 44 लाख नए मरीज आ रहे हैं. कैंसर रिसर्च एजेंसी ग्लोबेकेन के मुताबिक इस साल ब्रेस्ट कैंसर ने 70 हजार 218 महिलाओं की जान ले ली. मुंबई में कैंसर के इलाज के लिए मशहूर टाटा मेमोरियल हॉस्पिटल के आंकड़ों बताते हैं कि यहां हर साल 4 हज़ार कैंसर के नए मरीज आते हैं.




वहीं आईसीएमआर का कहना है कि 2020 में इसके मरीजों की संख्या 17.3 लाख तक पहुंच सकती हैं. लेकिन ऐसा भी नहीं है कि ब्रेस्ट कैंसर में हमेशा पीड़ित की जान ही जाए. अलग-अलग महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर के अलग-अलग लक्षण हो सकते हैं. इसलिए घबराने की बजाए पहले से खुद से इस बात की जांच कर लें कि कहीं आप के ब्रेस्ट में भी कैंसर के लक्षण तो नहीं दिखाई दे रहे-




MUST READ: BREASTFEEDING के वो फायदे जो जानना जरुरी है

 

खुद से टेस्ट करना है आसान

1-आईने के सामने खड़े हो जाइए. अपने ब्रेस्ट को ध्यान से देखिए, कोई गांठ नजर आ है या यह सख्त हो गया है?




2-निप्पल और उसके आसपास की त्वचा के रंग में किसी तरह का बदलाव महसूस हो रहा है?

3-क्या ब्रेस्ट में आप किसी तरह का दर्द महसूस करती हैं?

4-क्या निप्पल से हमेशा आपको लिक्विड जैसा कुछ निकलता दिखाई देता है?

5-क्या अंडर आर्म्स के नीचे भी किसी तरह का गांठ है?

See this video to raise awareness of breast cancer:

यदि आपको इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई दे या कुछ ऐसा महसूस हो जो पहले नहीं होता था तो आपको तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. डॉक्टरों का मानना है कि अक्सर महिलाएं ऐसे लक्षणों को नजरअंदाज करती हैं और बाद में यही कैंसर का गंभीर रुप धारण कर लेता है.

इसलिए देर करना मुसीबत को न्यौता देना है. हां इसमें डरने की जरुरत नहीं है क्योंकि ब्रेस्ट कैंसर का इलाज संभव है. यदि आप समय रहते डॉक्टर के पास पहुंच जाएंगी तो यकीन मानिए आप जल्दी ठीक हो जाएंगी.
 

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें