इस वजह से DEMOTE हो गईं CRICKETER हरमनप्रीत कौर, छीना DSP का पद

346
DSP
Cricketer Harmanpreet Kaur demoted as a constable

भारतीय महिला टी-20 टीम की कप्तान और राष्ट्रीय टीम की उपकप्तान Harmanpreet Kaur से DSP का पद छीन लिया गया है. उन्हें Demote कर दिया गया है. पंजाब सरकार ने  उनसे Deputy Superintendent of Police ( DSP- पुलिस उपाधीक्षक) का पद छीन लिया है और उन्हें Demote करके Constable बनाया गया है.




मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक हरमनप्रीत कौर को DSP से Demoted उनकी Fake Degree के कारण किया गया है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के कारण उन्हें इसी साल 1 मार्च को DSP बनाया गया था.

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पुलिस महानिदेशक सुरेश अरोड़ा ने प्रदेश पुलिस में डीएसपी पद उन्हें सौंपा था. लेकिन हरमनप्रीत के दस्तावेजों के Verification के दौरान Punjab Police ने उनके ग्रेजुएशन की उनकी डिग्री को फर्जी पाया है.




READ THIS:  चोट के बाद लौटीं DIPA KARMAKAR और जीत लिया GYMNASTICS का गोल्ड

यह डिग्री उन्हें मेरठ के Chaudhary Charan Singh University से मिली है. पंजाब पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक उनकी Graduation Degree फर्जी पाई गई है इसलिए अब उनकी योग्यता केवल 12वीं ही मानी जाएगी. इसी के मुताबिक अब उन्हें  Demote करके कांस्टेबल का पद दिया गया है.




मीडिया रिपोट्स के मुताबिक हरमनप्रीत पर फर्जी डिग्री लेने का आरोप लगा तो पंजाब पुलिस ने उनकी डिग्री को  यूनिवर्सिटी भेजा गया तो रजिस्ट्रार जीपी श्रीवास्तव ने जबाव दिया कि उन्होंने बीए अंतिम वर्ष की जो मार्कशीट जमा की थी, उसमें दिया गया रोल नंबर और नामांकन संख्या हमारे रिकॉर्ड में उपलब्ध नहीं है.

पंजाब सेवा नियमों के मुताबिक डीएसपी के पद के लिए स्नातक की डिग्री जरुरी है. हरमनप्रीत कौर पर यह कार्रवाई फर्जी डिग्री की शिकायत के बाद की गई. हालांकि सरकार उन पर कोई कानूनी कार्रवाई नहीं करेगी.

SEE THIS: CANCER के कारण सोनाली बेंद्रे को कटवाने पड़े बाल, इंस्टाग्राम पर EMOTIONAL MESSAGE में ये लिखा ये सब…

यह भी कहा जा रहा है कि यदि वे ग्रेजुएशन की सही डिग्री लेने के बाद यदि इस पद के लिए क्लेम करती हैं तो उन्हें यह पद दोबारा हासिल हो सकता है.

इस बारे में जब मीडिया ने हरमनप्रीत कौर से जानना चाहा तो उन्होंने कहा कि मुझे इस विवाद के बारे में पता है. सरकार इसे देख रही है. उन्होंने रेलवे की नौकरी छोड़कर पुलिस में नौकरी की थी. हालांकि उनके पिता ने कहा है कि उनकी बेटी पुलिस कांस्टेबल का पद स्वीकार नहीं करेगी.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें