PIZZA BURGER का अधिक सेवन मां बनने की राह में कैसे है बाधक?

51

Pizza Burger का अधिक सेवन मां बनने की खुशी छीन सकता है. ऑस्ट्रेलिया की Adelaide University (एडिलेड यूनिवर्सिटी) के शोधकर्ता ब्रिेटन, आयरलैंड,ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड की 5,598 गर्भवती महिलाओं की Diet History (खानपान के इतिहास) का विश्लेषण करने के बाद इस नतीजे पर पहुंचे है.




शोधकर्ताओं ने पाया कि भूख शांत करने के लिए हफ्ते में चार बार फास्टफूड यानी पिज्जा-बर्गर का सहारा लेने वाली 39 फीसदी महिलाओं को गर्भधारण में औसतन एक माह अधिक समय लगा.

वहीं 8 फीसदी को तमाम कोशिशों के बावजूद Pregnant होने के लिए लगभग एक साल अतिरिक्त समय का इंतजार करना पड़ा. इनमें से ज्यादातर महिलाएं संतानोत्पति संबंधि उपचार से भी गुजरीं.




शोधकर्ताओं ने यह भी देखा कि पिज्जा-बर्गर की लत बांझपन का खतरा 8 से बढ़ाकर 16 फीसदी तक कर देती है. उन्होंने परिवार बढ़ाने की कोशिशों में जुटी महिलाओं को मीठे की खुराक पर भी लगाम लगाने की सलाह दी है.

MUST READ: महिलाओं में HORMONE IMBALANCE हो तो सेक्स लाइफ पर क्या पड़ता है असर?

मुख्य शोधकर्ता मेलेनी मैकग्राइस के मुताबिक फास्टफूड सैचुरेटेड फैट, सोडियम और शक्कर से लैस होते हैं. इन रसायनों की अधिकता गर्भाधारण में सहायक ‘ऊसाइट’ कोशिकाओं की मात्रा घटाती है.




फल गर्भधारण में मददगार

अध्ययन में शोधकर्ताओं ने गर्भधारण की संभावनाओं पर फल, हरी सब्जियों और अंडा-मछली से भरपूर आहार का भी असर आंका. इस दौरान पता चला कि फल संतान सुख हासिल करने की उम्मीदें बढ़ाती हैं.

दिन-भर में फल की तीन खुराक लेने वाली महिलाओं में गर्भ जल्दी ठहरता है. हरी-सब्जियों और अंडे का गर्भधारण की संभावनाओं पर कोई खास असर नहीं पड़ता. शोध के नतीजे Journal Human Reproduction में प्रकाशित किए गए हैं.

(साभार-हिन्दुस्तान)

SEE THIS: CERVICAL CANCER से बचने के लिए पहचाने इन लक्षणों को

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें