“SHe BOX’ मेंअब प्राइवेट सेक्टर की महिलाएं भी कर सकेंगी में दफ्तरों में होने वाले यौन उत्पीड़न की शिकायत

1118
She Box

सरकारी महिलाओं के साथ-साथ अब प्राइवेट दफ्तरों में काम करने वाली महिलाएं अपने साथ होने वाले यौन उत्पीड़न की शिकायत ‘She Box’ में कर सकेंगी.  Sexual Harassment Electronic (She) Box ऑनलाइन शिकायत प्रणाली है. केंद्रीय महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने मंगलवार को इसे लांच किया.




www.shebox.nic.in पर दफ्तरों में होने वाले यौन उत्पीड़न से जुड़ी कोई भी शिकायत दर्ज कराई जा सकती है. अभी तक यह शिकायत प्रणाली सिर्फ केंद्र सरकार के विभिन्न विभागों में काम कर रही महिला कर्मचारियों के लिए था लेकिन अब प्राइवेट सेक्टर में काम करने वाली महिलाओं के लिए भी खोल दिया गया है. 




MUST READ: वर्कप्लेस पर SEXUAL HARASSMENT रोकिए-पहचानिए इन 5 लक्षणों को

 
महिला और बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने बताया कि ऐसी शिकायतों को डील करने के लिए मंत्रालय के अंदर एक अलग यूनिट बनाई है जो She Box में आई शिकायतों को देखेगी. उनके मुताबिक पहली बार दुनिया में किसी सरकार ने इस तरह का कदम उठाया है.




 
उन्होंने बताया कि जब छह महीने पहले यह ऑनलाइन शिकायत प्रणाली केवल सरकारी महिला कर्मचारियों के लिए खोला गया तो 346 शिकायतें मिलीं. अब यह सभी महिलाओं के लिए हैं और वे अपने साथ दफ्तर में हो रहे यौन उत्पीड़न की  शिकायत कर सकती हैं. जिन महिलाओं ने अपने ऑफिस की इंटरनल कंप्लेन कमिटी या लोकल कंप्लेन कमिटी में शिकायत की हुई है वे भी यहां शिकायत दर्ज करा सकती हैं.
 

MUST READ: Sexual harassment के विक्टिम को मिलेगी 90 दिन की लीव

 
 
मेनका गांधी ने अप्रत्यक्ष तौर पर दुनिया भर में चल रहे  #MeToo कैंपेन का जिक्र करते हुए कहा कि कुछ महीने पहले अमेरिका में खासकर हॉलिवुड में काम कर रही महिलाओं ने यह मसला उठाया कि उनके साथ वर्कप्लेस पर यौन शोषण होता है, जिसके बाद दुनिया भर के साथ ही हमारे देश में भी महिलाएं इस पर खुलकर बोलने लगी हैं.
 
उन्होंने बताया कि कई महिलाओं की शिकायत है कि ऑफिस में पुरुष सहकर्मी उनके साथ  गंदा मजाक करते हैं और टिप्पणियां करते हैं. यौन उत्पीड़न करने वाले पुरुष सहकर्मियों को यह समझना चाहिए कि ऐसा करने पर वे अपनी नौकरी जा सकती है या उनका प्रमोशन रुक सकता है. हालांकि महिला और बाल विकास मंत्री ने यह भी अपील की है कि किसी को परेशान करने की मंशा से झूठी हल्की शिकायतें नहीं भेजी जाए. इससे इस प्रणाली का वास्तविक उद्देशय विफल हो जाएगा. 
 
इस पोर्टल में उन 112 संगठनों की जानकारी दी गई है जिन्हें मंत्रालय ने कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न के मुद्दे पर कार्रवाई के लिए प्रशिक्षण और कार्यशाला चलाने के लिए सूचीबद्ध किया गया है.  
 

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें

 
 
 
 
Facebook Comments