यहां चाहिए traffic police में सिर्फ beautiful girls!

72
women traffic police
women traffic police
इंडिया में जहां Traffic police की नौकरी में पुरुषों का वर्चस्व है, अगर कोई महिला ट्रैफिक कण्ट्रोल करती दिख जाए तो लोगों उन्हें कौतुहल भरी नजरों से देखने लगते हैं, वहीं नार्थ कोरिया जैसे तानाशाही वाले देश में इस नौकरी के लिए सिर्फ महिलाओं को उपयुक्त माना जाता है.  महिलाओं के लिए इस पोस्ट पर नियुक्ति के लिए बाकायदा वैकेंसी निकाली जाती है.
वैकेंसी में रखी जाती हैं ऐसी शर्तें
ट्रैफिक ऑफिसर बनने के लिए महिलाओं का खूबसूरत, लंबा और आकर्षक होना जरुरी है. लंबाई कम से कम 5 फिट 4 इंच और उम्र 16 से 26 साल होनी चाहिए. महिलाएं ये नौकरी केवल 26 साल की उम्र तक ही कर सकती हैं, इसके बाद उन्हें रिटायरमेंट दे दिया जाता है. साथ ही एक और शर्त ये होती है कि उनका कुंवारी होना बेहद आवश्यक है. अगर वो जॉब के दौरान शादी कर लेंगी तो उन्हें ट्रैफिक ऑफिसर की नौकरी तुरंत हटा दिया जाता है.दिलचस्प बात ये है कि नॉर्थ कोरिया के प्रेजिडेंट किम जोंग उन खुद इन लंबी और खूबसूरत वुमन को इस पोस्ट के लिए चुनते हैं.
नॉर्थ कोरिया में आइकॉन हैं वुमेन Traffic police
देश में इन महिला Traffic police ऑफिसर्स की लोकप्रियता काफी है. लोग उनके दीवाने होते हैं और इसी दीवानगी को देखते हुए उनके लिए वेबसाइट PyongyangTrafficGirls.com भी बनाई गई है. इस वेबसाइट पर लोग इन ऑफिसर्स के प्रति अपनी दीवानगी जाहिर करने के लिए मैसेज भेज सकते हैं.  इस वेबसाइट पर इन ऑफिसर्स का सैलरी स्टेट्स भी बताया जाता है. इन ऑफिसर्स को रहने के लिए घर और मेडिकल सुविधाएं भी मिलती हैं. इनकी सैलरी करीब 3,500 नॉर्थ कोरियन वॉन यानी करीब 30 डॉलर होती है. साथ ही इन्हें ड्यूटी के दौरान खाना भी दिया जाता है.
ये ट्रैफिक सिक्योरिटी ऑफिसर्स बच्चों के बीच भी काफी पॉपुलर हैं, इसलिए इन ट्रैफिक सिक्योरिटी ऑफिसर्स की डॉल्स भी बच्चों के लिए बनाई गई हैं जिन्हें हाथोंहाथ मार्केट में ख़रीदा जाता है. इन महिलाओं की फोटो, डाक टिकटों, पोस्टर्स और बच्चों के खिलौनों पर ट्रैफिक डाल्स की तरह इस्तेमाल होती हैं.
इतना ही नहीं, वेबसाइट पर हर महीने ‘प्योंगयांग ट्रैफिक गर्ल ऑफ द मंथ’ का भी चयन किया जाता है.
वेबसाइट पर एक गैम भी है इसके साथ में उनके फैंस के लिए मैसेज और कविताएं लिखने का स्पेस भी है.
देश की महिलाएं भी इस नौकरी के लिए क्रेजी हैं जैसे ही Traffic police के लिए वैकेंसी निकलती है, लड़कियों की लाइन लग जाती है क्योंकि ट्रैफिक ऑफिसर्स को देश में आइकॉन का दर्जा प्राप्त होता है.
कविता राजपूत
Facebook Comments