MADHYA PRADESH में 12 साल तक की बच्ची से रेप पर फांसी होगी

1138
Madhya Pradesh

छोटी बच्चियों के साथ दुष्कर्म के बढते मामलों को देखते हुए पहली बार Madhya Pradesh Government ने 12 साल तक की बच्ची से रेप के दोषी को फांसी देने वाला कानून मंजूर कर लिया है. कानून में अहम संशोधन करते हुए कैबिनेट ने फांसी की सजा पर मुहर लगा दी. इसी तरह किसी युवती या महिला के साथ गैंगरेप करने वालों को भी मौत की सजा दी जाएगी. रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में यह फैसला हुआ.




संशोधित विधेयक आज से शुरु हो रहे विधानसभा के शीतकालीन सत्र में पेश किया जाएगा. विधानसभा में यह विधेयक पारित होने के बाद इसे राज्यपाल की मंजूरी के लिए भेजा जाएगा. राज्यपाल से मंजूरी मिलने के बाद इसे केंद्रीय गृहमंत्रालय भेजा जाएगा और इसके बाद राष्ट्रपति की मंजूरी ली जाएगा. इस तरह यह कानून का रुप ले लेगा.




RELATED TO THIS: इस महिला अफसर ANITA MALVIYA ने हंसी में उड़ाई RAPE VICTIM की शिकायत, सरकार ने हटाया

राज्य के वित्तमंत्री जयंत मलाइया ने मीडिया को बताया प्रदेश में छोटी बच्चियों के साथ बढ़ रहे रेप के मामले और  गैंगरेप की घटनाओं के मद्देनजर प्रदेश सरकार कानून में फेरबदल करने जा रही है. अब राज्य में 12 साल से कम उम्र की बच्चियों के साथ रेप करने पर दोषी को फांसी की सजा दी जाएगी.

इसके साथ ही लोक अभियोजन की सुनवाई का अवसर दिए बिना आरोपी की जमानत नहीं होगी.

और क्या है नए कानून में..

1-छात्राओं, युवतियों और महिलाओं का पीछा कर छेड़छाड़ करने वाले आरोपियों पर कड़ी सजा के साथ एक लाख रुपए तक का दंड भी लगाया जाएगा.




2-नए कानून में 12 साल से अधिक उम्र की बच्ची या महिलाओं के साथ दुष्कर्म के मामलों में फांसी का प्रावधान नहीं रखा गया है. ऐसे मामलों में ्भी जिन धाराओं के तरहत कार्रवाई या सजा होती है वही होगी.

MUST READ: क्या अब बालिग महिलाओं से MARITAL RAPE पर भी जाएगा ध्यान

3-किसी लड़की को शादी का प्रलोभन देकर उसका यौन शोषण करने वाले आरोपी के लिए भी सख्त सजा का प्रावधान किया गया है.

हाल में ही भोपाल में एक युवती के साथ गैंगरेप का मामला सामने आने के बाद कानून-व्यवस्था को लेकर मध्यप्रदेश सरकार की बहुत आलोचना हुई थी. कानून को मजबूत करने को लेकर कई सवाल उठाए जा रहे थे. लेकिन अब रेप के खिलाफ इस तरह का कड़ा कानून बनाने वाला पहला राज्य बन गया है मध्यप्रदेश.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें

Facebook Comments