‘KBC’ मैडम का MP में क्यों होता है इतना ट्रांसफर?

239
Amita singh tomar
Amita singh tomar

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के महिलाओं को आगे बढ़ाने के अभियान को रोकने या उस पर लगाम लगाने वालों की कमी नहीं है. MP में बीजेपी के शिवराज सिंह के राज में एक महिला अफसर ने बार-बार होने वाले अपने ट्रांसफर से तंग होकर अब सीधे प्रधानमंत्री का दरवाज़ा खटखटाया है और उम्मीद की है कि उन्हें न्याय मिलेगा.




 मध्य प्रदेश  में राजस्व विभाग में अफसर अमिता सिंह तोमर  का कहना है कि 14 साल की नौकरी में 25 बार तबादला किया गया है. उनका कहना है कि 9 जिलों की 25 तहसीलों में रही है, लेकिन क्या वजह है कि बार-बार उनका तबादला हो जाता है? इस बार उनका तबादला ब्यावरा से 800 किलोमीटर दूर सीधी हुआ तो अमिता सिंह ने बार-बार अपना तबादले करने से परेशान होकर अमिता सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी से इस मामले में दखल देने का आग्रह किया है. उन्होंने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को Tweet कर न्याय की गुहार लगाई है.




तहसीलदार अमिता का दो दिन पहले ही मध्यप्रदेश में राजगढ़ जिले की ब्यावरा तहसील से 500 किलोमीटर दूर सीधी जिले में तबादला किया गया है. जबकि उन्होंने उन्होंने अपने खर्चे पर गृह जिले में ग्वालियर तबादला मांगा था. अमिता सिंह का आरोप है कि उन्होंने ब्यावरा में गणेश मंदिर की जमीन पर दो मंजिला अवैध मकान से हाईकोर्ट के आदेश पर कब्जा हटाया था. वे रसूखदार लोग थे और उन्होंने तबादले की धमकी दी थी.




बिग बी अमिताभ बच्चन के फेमस शो  ‘कौन बनेगा करोडपति’ में 50 लाख रूपये जीतने और फेसबुक में विवादित टिप्पणी करने के बाद सुर्खियों में रही थीं.  उनका कहना है कि KBC  में जाने के कारण लोग उन्हें केबीसी वाले मैडम कहते थे लेकिन अब ट्रांसफर वाली मैडम कहकर मेरा मजाक उड़ाते है. मुझे मानसिक रुप से परेशान किया जा रहा है. सिंहस्थ कुंभ मेला के दौरान और दूसरे कई अहम मौकों पर अच्छे काम के लिए प्रमाण-पत्र, पुरस्कार एवं मेडल पाने वाली अमिता ने कहा है कि ‘केवल तीन महीने पहले ही मैं ब्यावरा आई थी लेकिन अब सीधी भेज दिया गया है.

 

Facebook Comments