संस्कारी PAHLAJ NIHALANI ने यूटर्न लेकर कैसे जोड़ा ‘जूली’-2 से नाता ?

0 views

जूली जयश्री :

नजरें बदली तो नजारे बदल जाने वाली बात तो आपने सुना ही होगा लेकिन पद बदल जाने से संस्कार भी बदल  जाते हैं इस बारे में उदारहण पेश किया है Pahlaj Nihalani ने. जब वे सेंसर बोर्ड के मुख्य पद पर थे तब एक्टर-डायरेक्टर्स से फिल्म में कट लगाने को लेकर विवाद में रहे. शाहरुख और अनुष्का की फिल्म ‘जब हैरी मेट सेजल’ में इंटरकोर्स शब्द पर ही आपत्ति कर दी थी. उन्होंने ‘उड़ता पंजाब’, ‘लिपस्टिक अंडर माई बुर्का’ और बाबुमोशाय बंदूकबाज समेत कई फिल्मों पर खूब कैंची चलाई. दुहाई दी कि इससे समाज में अश्लीलता फैलता है. लेकिन वही अब पहलाज बोर्ड के पद से हटते ही बोल्ड फिल्म ‘जूली-2’ लेकर आ रहे हैं जिसमें बोल्ड और हॉट दृश्यों की भरमार है. 




MUST READ : “lipstick Under My Burkha” के वो दस सीन्स, क्या आप देखना चाहेंगें ?

हॉट दृश्यों से भरे ‘जूली 2’ फिल्म के पहलाज प्रेजेंट है और डिस्ट्रीब्यूटर भी है. इस फिल्म का बोल्ड ट्रिजर देखते ही लोगों ने पहलाज के डबल स्टेंडर्ड रवैये पर सवाल उठाना शुरु कर दिया है. सफाई में पहलाज ने माना कि जब मैं कमिटी में था तो उसके नियमों के अनुसार काम करता था ,लेकिन अब मैं आजाद हूं और संस्कारी भी.




इरोटिक फिल्म जूली 2 को संस्कारी फिल्म बताने वाले ये वही पहलाज हैं ,जिन्होंने सीबीएसफ के अध्यक्ष पद पर रहते हुए नैतिकता के बहाने फिल्मों पर खूब केैंची चलायी. यही वजह रहा वे अपने दो साल के कार्यकाल में लगातार विवादों में घिरे रहे और आखिरकार पद से हटाए भी गए . अब पहलाज की फिलम जूली-2 के प्रोमो में दिखाया जा रहा है कि अभिनेत्री बार-बार अपने कपड़े उतार रही है. फिल्म में बोल्ड दृश्यों की भरमार है.डायरेक्टर दीपक शिवदासानी निर्देशित ‘जूली 2’ साल 2004 में आई नेहा धूपिया स्टारर फिल्म ‘जूली’ की सीक्वल है. साउथ की ऐक्ट्रेस राय लक्ष्मी ने बेहद बोल्ड सीन दिए हैं.




MUST READ : Bhoomi Official Trailer -Sanjay Dutt comeback with BHOOMI

पहलाज ने कुशान नंदी की फिल्म बाबूमोशाय बंदूकबाज को 48 कट्स के साथ पास किया गया तो उड़ता पंजाब को 89 और एनएच 10 को 9 कट्स के साथ. सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष रुप में कभी किसिंग सीन ,तो कभी ब्रा का स्ट्रेप दिखने पर आपत्ति जताने वाले पहलाज ने अपनी फिल्म जूली का ट्रेलर रिलीज करते समय उस पोस्टर की तरफ इशारा करते हुए कहा इसमें क्या अश्लील है? मीडिया ने जब उनके बदले रवैए पर सवाल उठाया तो उन्होंने कहा मैं हमेशा संस्कारी था, संस्कारी हूं और संस्कारी रहूंगा. आप लोग फिल्म देखने के बाद यह तय कीजिएगा कि इसमें कुछ गलत है या नहीं. ‘पद से हटाए जाने को लेकर नाराज पहलाज ने उस वक्त कहा था कि मेरे जाने के बाद सभी फिल्मों में पार्न और अश्लील सामग्री परोसी जाएगी—-उनकी बात सच साबित हो रही है, इसकी पहल तो उन्होंने खुद  ही कर दी. 

 

Facebook Comments