करें ‘IGNORE’-यदि कोई आपसे कहे ये 5 बातें

1184
Ignore
Ignore these 5 things for a happy life and positive mind (Pik Cour: wikihow)

संयोगिता कंठ:

क्यों कुछ बातों को Ignore करना जरुरी हो जाता है? यदि हम ऐसा नहीं करें तो पाएंगे कि हमारी जिंदगी परेशानियों में उलझती जा रही है. ऐसा दूसरों की वजह से नहीं बल्कि अपनी वजह से होता है क्योंकि हम दूसरों को जरुरत से ज्यादा तवज्जो देने लगते हैं और उनकी गैर जरुरी और नकारात्मक बातों को Ignore नहीं कर पाते हैं.




यह हमारी जिंदगी है और अपनी जिंदगी में किसे और किसी की बात को कितनी तवज्जो देनी है यह हमारा सर्वाधिकार सुरक्षित है. दूसरों की बातों से तनाव लेना, उसके बारे में सोच-सोच कर परेशान होना और उसकी वजह से अपने आपको परेशानियों में घिरा महसूस करना कतई उचित नहीं.

इसलिए अच्छा है कि आप कुछ ऐसी बातों को Ignore करें जिसे आप जरुरी नहीं समझती हों. खासतौर पर ऐसे सवालों को..

1-आप तो दिखती ही नहीं?

इसका मतलब है कि वे आपकी गतिविधियों पर ध्यान रखा जा रहा हैं और लोग चाहते हैं कि जहां-जहां वे हैं वहां आप भी दिखें. आप यदि कामकाजी हों तो आपके बारे में बात बनाने के ज्यादा मौके हैं उनके पास, क्योंकि आप छुट्टी के दिन के अलावा और किसी दिन दूसरों के लिए वक्त नहीं निकाल पाती हैं.




READ THIS: जोर से कहिए ALL IS WELL- देखिए ANXIETY कैसे होगी दूर?

लेकिन आप उन्हें हर जगह नजर आएं ये जरुरी तो नहीं. आप अपना काम करें और खुद का ख्याल रखें. आपके लिए कौन सा वक्त और कौन सा समय कहीं आने-जाने के लिए उचित हैं यह आप से ज्यादा कोई नहीं समझता.

2-आपकी बेटी कल शाम कहीं गई थी क्या ?

Ignore
(Pik Cour: wikihow)

अपने बच्चे पर भरोसा रखें. आपकी बेटी कहां जा रही है, कहां गई है, इसकी फिक्र आपको ज्यादा होनी चाहिए किसी और को नहीं. इसलिए कोई क्या कह रहा है इससे कोई फर्क नहीं पड़ना चाहिए. ऐसी बातों और ऐसे लोगों को Ignore करें जो आपके घर में तांका-झांकी करते हैं.

3-अरे उसके पति ही घर का सारा काम करते हैं




आप यदि कामकाजी हैं और आपके पति समझदार हैं और जीवनसाथी के हर काम में हाथ बंटाना अपनी जिम्मेदारी समझते हैं तो इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है.

SEE THIS: WORK AND HOME BALANCE-ये काम इतना मुश्किल भी नहीं…अपना कर देखें ये 10 टिप्स..

Ignore
(Pik Cour: wikihow)

कहने दीजिए, दूसरों के कहने से क्या फर्क पड़ता है? गृहस्थी की गाड़ी के दोनों पहिए यदि समान रुप से चलें तो एक-दूसरे के प्रति समर्पण रहें तो भला दूसरों को इसमें क्या परेशानी है? यदि उनकी बातों को Ignore  करेंगी तो आपको Guilty फील नहीं होगा.

4- इस उम्र में भी खूब बन-ठन कर रहती है

आप कैसे रहें, क्या पहने, कैसी दिखें, किस उम्र में किस तरह रहना चाहती हैं यह आपकी मर्जी है. दूसरों के कहने या उनकी परवाह किए बगैर आप अपनी जिंदगी जिएं. एक बात जान लीजिए आप कुछ भी करेंगी दूसरों की परेशानी बनी रहेगी.

READ MORE: ‘जागो गृहिणी जागो’ -WORK FROM HOME के बारे में क्यों नहीं सोचतीं आप?

5-बहुत फालतू घूमते-फिरते हैं ये लोग

Ignore
(Pik Cour: wikihow)

अपने परिवार वालों, बच्चों या दोस्तों के साथ वक्त बिताने का या घूमने फिरने का मौका मिलता है तो आप किस्मत वाली हैं. ऐसे मौके के जाने न दें. इस बात की परवाह न करें कि लोग या रिश्तेदार क्या कहेंगे?

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें