DIGITAL DETOX-फेसबुक से दूरी के वो ‘5’ दिन

1376
Digital Detox
Tips for digital detox-spend 5 days without facebook

संयोगिता कंठ:

Digital Detox है क्या-इसे ऐसे समझिए. जब आपकी जिंदगी में परिवार वालों, रिश्तेदारों और असली दोस्तों की जगह आभासी दोस्त लेने लगेंं यानी फेसबुक फ्रेंड आपको ज्यादा महत्वपूर्ण लगने लगें, आप दिन के कई घंटे फेसबुक पर बिताने लगें, नोटिफिकेशंस के बीच ही उलझ कर रह जाएं तो समझे Digital Detox करने का समय आ गया है.




मनोचिकित्सक Digital Detox करने पर जोर देते हैं.  Detox का मतलब है शरीर और मन से हानिकारक चीजें बाहर निकालना. Social Media हमारे मन और मस्तिष्क को बुरी तरह नुकसान पहुंचा रहे हैं. यह जानते हुए भी सोशल मीडिया की लत हमसे छूटती नहीं.

खासकर फेसबुक की लत जिस पर घंटों समय बिताना कुछ लोगों की आदत और लत दोनों बन गई है. इसलिए जरुरी है कि Digital Detox किया जाए.




इसके जरिए हम कुछ समय के लिए अपने आप को फेसबुक से दूर रखें और देखें कि फेसबुक के बिना हमारा दिन कैसे गुजरता है. शुरुआत करते हैं पहले 5 दिनों से…अगले महीने आप इसमें कुछ और दिन जोड़ सकती हैं.

फेसबुक से दूरी के 5 दिन कैसे गुजारें..

1.पहला दिन

आपके दिमाग में Digital Detox चल रहा है इसलिए सबसे पहले अपने फोन से फेसबुक डिलीट कर दें. शुरुआती कुछ घंटे बहुत मुश्किल भरे होंगे. अकेलापन महसूस होगा. लगेगा पता नहीं किस Facebook Friend ने क्या पोस्ट किया होगा? कंट्रोल करना मुश्किल होगा पर याद रखिए आप Digital Detox कर रहे हैं.




READ THIS: ONLINE ZINDAGI- इससे हमें सच्ची खुशियां मिलती है क्या?

ऐसे में अपने किसी ऐसे दोस्त को फोन मिलाइए जिन्हें आपने बहुत दिनों से फोन नहीं किया हो. किसी छोटे भाई-बहन का रिजल्ट आया हो या परीक्षा होने वाली हो या नई नौकरी ज्वाइन करने वाले हों तो उन्हें फोन करके शुभकामना दें.

 2.दूसरा दिन

दोस्त आपको टैग करेंगे, नोटिफिकेशंस आएंगे लेकिन खुद पर काबू रखना है. हो सकता है आपको बोरियत महसूस हो, शाम होते-होते आप डिप्रेस्ड फील करने लगें, बार-बार कंप्यूटर पर हाथ जाए कि एक बार अपना फेसबुक चेक कर लूं, लेकिन थोड़ा धैर्य रखिए.

ऐसा कीजिए ऑफिस से निकलते समय अपनी उस आंटी से मिल आईए जिनसे मिलने का वक्त आपको महीनों से नहीं मिला हो. उनसे मिलने जा रहे हों तो चॉकलेट, आईसक्रीम या मिठाई जो कुछ भी उन्हें पसंद हो लेकर जाएं.

3.तीसरा दिन

फेसबुक पर आ रहे कमेंटस और नोटिफिकेशन सबसे ज्यादा आपका ध्यान भटकाएंगे. इसलिए सेंटिंग्स में जाकर हाइट साइडबार का विकल्प चालू कर दें.

इससे ऑफिस में कंप्यूटर पर काम करते समय कमेंटस, लाइक्स और दुनिया भर में ऑनलाइन रहने वाले लोगों के बारे में कोई जानकारी नहीं मिलेगी. आपको डिसटर्ब करने वाले जितने भी विकल्प हैं सबके लिए सेंटिग्स में कुछ न कुछ उपाय है, उसे आजमा कर देखें.

SEE THIS: LADIES- पता है आप कैसे फंसती जा रहीं है LIKES COMMENTS के जाल में?

हो सकता है तीसरे दिन आपका मन Digital Detox से भटकने लगे लेकिन ध्यान रखिए खुद को मानसिक रुप से सेहतमंद रखने के लिए आपको यह लड़ाई जीतनी है.

4. चौथा दिन 

तीन दिनों तक यदि आपने फेसबुक पर खोला नहीं, कोई पोस्ट नहीं किया, कोई लाइक्स-कमेंटस कुछ भी नहीं किया तो मान जाइए कि आप अपने मन के राजा है और आप जो चाहें कर सकते हैं.

आपने खुद पर कंट्रोल कर लिया है आप जरुर अच्छा महसूस कर रहे होंगे. आप को खुद महसूस होगा कि आपके पास कितना वक्त है, कितना कुछ करने को बाकी हैं. फेसबुक पर घंटों देने के कारण आप पहले वक्त की कमी का रोना रोते थे, ऑफिस में कोई काम समय पर नहीं कर पाते थे लेकिन इन चार दिनों में मानों कमाल हो गया हो.

5. पांचवा दिन

Digital Detox के कारण आखरी दिन आप रिलैक्स्ड महसूस कर रहे हैं? लग रहा है न कि फेसबुक पर 5 दिनों तक काबू रखना आपको रोचक लगा. ये उतना ही रोचक है जितना आप को उन दिनों लग रहा था जब आपने फेसबुक पर अपना एकाउंट बनाया था.

Pik Cour: Kiddieversity

आज आप खुद को जीता हुआ महसूस कर रहे हों तो सेलेबरेशन कीजिए. किसी पार्क में बच्चों के साथ जाइए, खूब खेलिए, उन्हें आईसक्रीम खिलाने ले जाइए, मनपसंद किताबें पढ़िए, टीवी पर आपकी कोई फेवरेट फिल्म आ रही हो तो देखिए या किचन में मनपसंद खाना बनाइए.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें