TRUMP GOVT में भारतीय मूल की वकील मनीषा सिंह को मिली अहम जिम्मेदारी

0 views
manisha_singh
manisha_singh

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारतीय मूल की वकील Manisha Singh को स्टेट डिपार्टमेंट में अहम पद दिया है. मनीषा को Economic Diplomacy का इंचार्ज बनाया गया है. वे फिलहाल फ्लोरिडा में चीफ काउंसल और सीनेटर डान सुलिवैन की सीनियर पॉलिसी एडवाइजर हैं.  सीनेट से अनुमति मिलने के बाद मनीषा सिंह ने चार्ल्स रिव्किन की जगह ली है, जिन्होंने डोनाल्ड ट्रंप के 45वें राष्ट्रपति बनने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. यह पद जनवरी से खाली था. 
अमेरिका के फ्लोरिडा में रहने वाली 45 वर्षीय मनीषा सिंह इससे पहले ब्यूरो आफ इकोनॉमिक, एनर्जीं एवं बिजनेस अफेयर्स में उप सहायक सचिव और सीनेट फोरेन अफेयर्स कमेटी के वरिष्ठ सहयोगी के रूप में काम कर चुकी हैं. मनीषा मूल रुप से उत्तर प्रदेश की रहने वाली हैं. उन्होंने 19 साल में मियामी यूनिवर्सिटी से बीए की डिग्री हासिल की.




MUST READ: प्रीत कौर गिल बनी Britain की पहली सिख महिला MP

 

उन्होंने वाशिंगटन कॉलेज से लॉ की पढ़ाई की है और फ्लोरिडा में ही रहकर लॉ की प्रैक्टिस की.उनके पास फ्लोरिडा, पेनसिल्वेनिया और कोलंबिया में वकालत करने का लाइसेंस है. यह शुरु से अंदाजा लगाया जा रहा था ट्रंप एडमिनिस्ट्रेशन में भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक मनीषा सिंह को अहम प्रशासनिक पद मिल सकता है. राष्ट्रपति ट्रंप के ऑफिस की तरफ से भी ऐसी मंशा जाहिर भी की गई थी.

इससे पहले ट्रम्प सरकार ने भारतीय मूल की गवर्नर निक्की हेली को संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत के लिए नामित किया है. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के बाद निक्‍की हेली अमेरिकी प्रशासन में कैबिनेट स्‍तर के पद पर नियुक्‍त होने वाली पहली महिला बनीं. डोनाल्‍ड ट्रंप ने हेली को संयुक्‍त राष्‍ट्र में राजदूत नामित करने की घोषणा करते हुए कहा था कि वे बेहद कुशल और व्‍यवहारिक हैं. अप्रवासी पंजाबी परिवार में जन्‍मी निक्‍की 2011 में 38 वर्ष की उम्र में साउथ कैरोलिना की गवर्नर चुनी गई थीं. निक्की हेली को भारतीय विरासत पर गर्व है. उनकी नियुक्ति से अमेरिका में रह रहे भारतीयों को गर्व महसूस हो रहा है. 




महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे… 

Facebook Comments