‘सैराट’ नहीं बन पाई DHADAK, पर जान्हवी-ईशान ने जीत लिया दिल

1146
dhadak
Dhadak Review-know strengths and weaknesses of the film

मोनिका अग्रवाल:

Dhadak आज परदे पर उतर गई है. फिल्म को शुरुआती रिस्पांस जबरदस्त मिला है. Dhadak के कलाकार  Janhvi Kapoor और Ishaan Khatter ने अपनी अदाकारी से दिल जीत लिया है, लेकिन Dhadak  फिल्म Marathi blockbuster Sairat मुकाबला नहीं कर पाई.

#janhvikapoor #ishaankhatter

A post shared by 💘Dhadak 💘 (@janhviandishaan) on

Dhadak मराठी फिल्म सैराट की हिंदी रीमेक है. यह श्रीदेवी की बेटी जान्हवी कपूर की डेब्यू फिल्म है. वैसे फिल्म तो बिल्कुल ‘सैराट’ जैसी है लेकिन जिस तरह का Innocence उस फिल्म में था उस तरह का ट्रीटमेंट Dhadak में कहीं नज़र नहीं आता. फिल्म के  क्लाइमैक्स में थोड़ा बदलाव किया गया है.

फिल्म सैराट में महाराष्ट्र का परिवेश था लेकिन करन जौहर ने इसे राजस्थानी परिवेश में फिल्माया है. कहानी वही है जिसमें कॉलेज के 2 युवा मधुकर बगले और पार्थवी सिंह एक दूसरे से प्यार करते हैं.

Fav PART 😍❤ #JanhviKapoor #IshaanKhatter #Dhadak

A post shared by 💘Dhadak 💘 (@janhviandishaan) on

SEE THIS: ‘DHADAK’ रिलीज होने वाली है और MOM को बहुत मिस कर रही हूं- जान्हवी कपूर

जातपात इनके प्यार के बीच रोड़ा बनता है. यह दोनों पकड़े जाने के बाद उदयपुर से भागते हैं और मुंबई होते हुए कोलकाता को अपना ठिकाना बनाते हैं. फिल्म ऑनर किलिंग पर आधारित है.

Zingaat✨🙏 -s

A post shared by B O L L Y W O O D 🌻 (@bollykabira) on

‘सैराट’ में  वर्गभेद या जातिभेद के मुद्दे को विशुद्ध तौर पर फ़िल्म में बताया गया गया था जबकि ‘धड़क’ में एक संवाद के अलावा यह कहीं पर स्पष्ट नहीं हो पाता है कि आखिर दोनों के प्यार के खिलाफ लोग किस बात को लेकर है?धड़क में 3 गाने सैराट के ही लिए गए हैं, जिसे हिंदी में दोबारा रीक्रिएट किया गया है.

#OneWordReview… #Dhadak: WINNER. Rating: ⭐️⭐️⭐️½ Comparisons with Marathi blockbuster #Sairat are inevitable… Viewed as a stand-alone film, #Dhadak has several dramatic highs, scintillating music and importantly, the young pair [Ishaan and Janhvi] is electrifying… Shashank Khaitan adapts #Sairat wonderfully well… Retains the essence, but gives #Dhadak a different texture… Romance is fresh, pure and energetic… Tense moments keep you on tenterhooks… Culmination leaves you shocked, stunned and speechless… Ishaan is tremendous… Nails the part like a seasoned actor… Incredible talent… Janhvi springs a pleasant surprise and pitches in a confident performance… Watch out for the sequence when she confronts Ishaan in the second hour… #Dhadak Ajay-Atul’s soundtrack deserves brownie points… The locales of Rajasthan and Kolkata have been captured beautifully… #Dhadak dips in the post-interval portions, has a few rough edges too, but the shocking finale makes you forget the hiccups.

A post shared by Taran Adarsh (@taranadarsh) on

मधुकर बागले की भूमिका में हैं ईशान खट्टर और पार्थवी सिंह के किरदार में हैं जाह्नवी कपूर जिनकी यह पहली फ़िल्म है, लेकिन उनके भोलेपन ने दर्शकों का दिल जीत लिया है.

जाह्नवी कपूर से लोगों को जिस तरह की उम्मीदें थीं वो उस पर खरी उतरती हैं.  जाह्नवी कपूर के बारे में कहा जा सकता है कि बॉलीवुड को एक और हीरोइन मिल गयी है.

READ THIS: अपने पहले इंटरव्यू में JANHVI KAPOOR ने मां ‘श्रीदेवी’ के बारे में क्या कहा?

ईशान खट्टर एक शानदार परफॉर्मर हैं. ईशान और जाह्नवी की जोड़ी आने वाले समय में बॉलीवुड के लिए एक Asset की तरह साबित होगा. यह इस फ़िल्म का एक प्लस पॉइंट है. फिल्म को Shashank Khaitan ने डाइरेक्ट किया है और Karan Jauhar ने प्रोड्यूस किया है.