क्या GEETA को मिलेगा उसका मनपसंद जीवनसाथी, शादी की हो रही जोर-शोर से तैयारी

656
Geeta
Geeta

पाकिस्तान से दो साल पहले भारत आई मूक-बधिर Geeta की शादी की तैयारी हो रही है. गीता से शादी की इच्छा रखते हुए कई युवकों ने अपना प्रस्ताव रखा है. संभावना है कि अगले सप्ताह गीता का स्वंयवर हो और वह अपने जीवनसाथी को चुने.




Geeta इन दिनों इंदौर की स्कीम-71 स्थित मूक-बधिर केंद्र में रह रही है. सरकार ने उसके मां-बाप को बहुत ढूंढने की कोशिश की लेकिन अभी तक उनका कुछ पता नहीं चल पाया है.

कुछ दिनों पहले गीता ने शादी करने की इच्छा जताई तो प्रशासन ने उसके लिए उपर्युक्त वर की तलाश शुरु कर दी. इसके लिए एक एनजीओ ने फेसबुक पर उसकी शादी के लिए एक विज्ञापन पोस्‍ट किया था.




SEE THIS: TEEJAN BAI- जीवन में सार्थकता की तलाश जितना पुरुषों के लिए ज़रूरी उतना ही स्त्रियों के लिए भी

विज्ञापन देकर इच्छुक लड़कों का बायोडाटा मंगवाया गया. विज्ञापन में साफ कहा गया कि गीता अपने लिए अपनी मर्जी से दूल्‍हा चुनेगी. इसके बाद भारत सरकार इस सिलसिले में उचित कदम उठाएगी.

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक Geeta से शादी की इच्छा रखने वाले केवल उन्हींं लड़कों के बायोडाट मंगवाया गया था जो गीता की तरह ही मूक-बधिर हो, लेकिन हैरानी की बात है कि कई सामान्य लड़कों ने भी अपना बायोडाटा भेजा है.

महाराष्ट्र, गुजरात, उत्तरांचल, उत्तरप्रदेश, कर्नाटक, मध्यप्रदेश, उड़ीसा समेत कई राज्यों के युवकों ने प्रस्ताव भेजा है.  करीब 50-60 लड़कों ने गीता से शादी करने की इच्छा जताते हुए अपना बायोडाटा भेजा.




लेकिन गीता ने उनमें से 16 बायोडाटा को छांटा है. गीता से शादी के इच्छुक लोगों की उचित छानबीन के बाद उसके बारे में जारी विदेश मंत्रालय को भेजी गई.

मीडिया रिपोर्टस में कहा गया है Geeta ने जिन उम्मीदवारों का चयन किया है उन्हें अगले सप्ताह गीता से मिलने के लिए बुलाया जाएगा. स्वंयवर की तरह वह जिसे पंसद करेगी उससे उसकी शादी कर दी जाएगी.

READ THIS: तो क्या इसलिए ARBAAZ KHAN से तलाक़ लिया MALAIKA ARORA ने ?

गीता ने शादी से पहले कुछ शर्तें भी रखी हैं. जो युवक उसके साथ शादी करेगा उसे उसके माता-पिता को तलाशना होगा. वहीं गीता की दूसरी शर्त यह है कि यदि कोई सामान्य युवक उससे शादी करता है तो उसे सांकेतिक भाषा सीखनी होगी.

मी़डिया रिपोर्टस की मानें तो गीता की शादी का पूरा खर्च विदेशा मंत्रालय उठाएगा. यही नहीं शादी के बाद दूल्‍हा-दुल्‍हन को रहने के लिए घर और लड़के को सरकारी नौकरी भी दी जाएगी.

गीता बचपन में ग़लती से पाकिस्तान पहुंच गई थी. वह जब सात-आठ साल की उम्र की थी पाकिस्तानी रेंजर्स को समझौता एक्सप्रेस में लाहौर रेलवे स्टेशन पर मिली थी.

गलती से सरहद पार पहुंचने वाली इस मूक-बधिर लड़की के बारे में वहां की मीडिया में खबरें आने के बाद भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने विशेष प्रयास किए. उन्हीं की वजह से गीता 26 अक्तूबर 2015 को भारत लौटी थी.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें