SHASHI THAROOR -‘पद्मावती’ फिल्म पर विवाद एक अवसर है राजस्थान की महिलाओं की पढाई-लिखाई पर ध्यान दे सरकार

2212

संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ पर चल रहे भारी विवाद के बीच Shashi Tharoor ने कहा है कि सरकार को इस विवाद के बजाए महिलाओं की पढाई-लिखाई पर ध्यान देना चाहिए. शशि थरुर ने एक Tweet करते हुए कहा है राजस्थानी महिलाओं की साक्षरता दर उनके घूंघट से ज्यादा महत्वपूर्ण है. 

शशि थरूर ने कहा, “‘पद्मावती’ विवाद आज राजस्थानी महिलाओं की स्थिति पर ध्यान केंद्रित करने का एक मौका है, न कि छह शताब्दी पुरानी महारानियों पर ध्यान केंद्रित करने का. राजस्थान की महिला साक्षरता दर सबसे कम है. शिक्षा ‘घूंघट’ से ज्यादा जरूरी है.” 




उनका कहना है कि फिल्म पर विवाद राजस्थानी महिलाओं की स्थिति पर ध्यान देने का एक मौका है यदि आप वाकई महिलाओं के विकास और सम्मान को लेकर जागरुक हैं तो फिल्म के विषय और इतिहास के विवाद को तूल देने के बदले अपना ध्यान शिक्षा जैसे सार्थक मुद्दों पर लगाना चाहिए ,जिससे वाकई महिलाओं की स्थिति में सुधार होगा .




 

दीपिका पादुकोण, शाहिद कपूर और रणवीर सिंह स्टारर फिल्म ‘पद्मावती’ को लेकर शुरु से ही विवाद चल रहा है. ‘पद्मावती’ 1 दिसंबर को रिलीज होने जा रही है. फिल्म में कथित तौर पर रानी पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच ड्रीम सिक्वेंस दिखाए जाने के बात के कारण फिल्म पर जबरदस्त विरोध हो रहा है. 

हालांकि फिल्म के निर्देशक संजय लीला भंसाली ने वीडियो जारी कर अपनी सफाई देते हुए कहा है कि फिल्म में ऐसा कोई सिक्वेंस नहीं है. कई अभिनेता और फिल्म संघ संजय लीला भंसाली के समर्थन में उतर आए हैं.




इस मामले में सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन (सीबीएफसी) सलाहकार समिति के सदस्य और बीजेपी नेता अर्जुन गुप्ता ने एक लेटर लिखकर होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह से आग्रह किया है कि भंसाली को ‘देशद्रोह’ के लिए दंडित किया जाना चाहिए.

Realated to this: विवादों के बीच पद्मावती का नया गाना ‘EK DIL EK JAAN’ रिलीज, दीपिका-शाहिद को देखिए रोमांटिक अंदाज में

जयपुर में बजरंग दल के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया और फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग को लेकर चीफ मीनिस्टर के नाम एक लेटर जिला प्रशासन को सौंपा. बजरंग दल के लोगों ने धमकी दिया है कि यदि राजस्थान में इस फिल्म को रिलीज किया गया तो सिनेमाघरों में तोड़ फोड़ की जिम्मेदारी सरकार की होगी .

राजस्थान के पूर्व सियासी घराने ने भी इस फिल्म का विरोध किया है. वहीं सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म की रिलीज पर प्रतिबंध लगाने से इनकार कर दिया है. हालांकि फिल्म के पोस्टर और गानों को खूब पसंद किया जा रहा है. 

 

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें