महबूबा से रुठी बीजेपी- लिया समर्थन वापस MEHBOOBA MUFTI को देना पड़ा इस्तीफा

656
Mehbooba Mufti
Mehbooba Mufti resigns

BJP ने जम्मू-कश्मीर की Mehbooba Mufti सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है. समर्थन वापसी के बाद जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री Mehbooba Mufti ने अपना इस्तीफा राज्यपाल एनएन वोहरा  को सौंप दिया है. BJP और PDP के गठबंधन से यह सरकार बनी थी.




मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक भाजपा अध्यक्ष अध्यक्ष अमित शाह ने आज दिल्ली में राज्य के सभी बड़े पार्टी नेताओं की बैठक बुलाई और समर्थन वापसी का फैसला किया. भाजपा के सभी मंत्रियों ने भी अपना इस्तीफा दे दिया है.

PDP से समर्थन वापसी के फैसले के बाद बीजेपी नेता राम माधव ने कहा कि  जम्मू-कश्मीर सरकार के तीन साल के कार्यकाल को देखते हुए गृह मंत्रालय सभी एजेंसियों से राय लेकर ये फैसला किया है. जिसके बाद ये तय हुआ है कि बीजेपी अपना समर्थन वापस ले रही है.




READ THIS: YOUNG MONK ने कहा-“मां भिक्षा दीजिए….. ‘फिर वो कैसे बन गए यूपी के सीएम’, पढ़िए पूरी कहानी

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के नेता नईम अख्तर ने श्रीनगर में मीडिया से कहा कि Mahbooba Mufti ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. महबूबा मुफ्ती के इस्तीफे के बाद पीडीपी की बैठक हुई. दिल्ली में गृह मंत्री राजनाथ सिंह के घर पर एक उच्च स्तरीय बैठक चल रही है.

बैठक के बाद महबूबा मुफ्ती ने कहा कि हमने एक बड़े विजन के तहत यह गठबंधन किया था. जम्मू-कश्मीर के लोग जिस मुसीबत में फंसी है उन्हें इससे निकालने के लिए हमने केंद्र सरकार में बैठी बड़ी पार्टी के साथ हाथ मिलाया था.




उन्होंने अपने सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि हमने जम्मू-कश्मीर में संवाद के लिए यह सरकार बनाई थी. मुफ्ती साहब की इच्छा थी कि यहां बातचीत चलती रहे यहां सख्ती की पॉलिसी नहीं चल सकती. धारा 370 पर हमने कोर्ट में दलील थी, रमजान में ऑपरेशन रुकवाया. हमारी कोशिशों से सीजफायर हुआ.

SEE THIS: RASHTRA SEVIKA SAMITI-जहां शारीरिक, मानसिक और बौद्धिक विकास एक साथ

उन्होंने कहा कि पीडीपी पाकिस्तान के साथ और यहां के साथ बातचीत करने की अपनी पॉलिसी को बनाए रखने की कोशिश की. आगे भी हमारी यही कोशिश जारी रहेगी. कश्मीर में शांति के लिए बातचीत जरुरी है. यह गठबंधन मैंने पावर के लिए नहीं किया था इसके बड़े मकसद थे.

बीजेपी और पीडीपी ने मिलकर मार्च 2015 में जम्मू-कश्मीर में सरकार बनाई थी. मुफ्ती मुहम्मद सईद इस गठबंधन के मुख्यमंत्री बने थे और उनके निधन के बाद भी यह गठबंधन जारी रहा और उनकी बेटी महबूबा मुफ्ती मुख्यमंत्री बनीं.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें