अब सुखोई-30 भी उड़ाने को तैयार हैं एयर फोर्स की WOMEN FIGHTER PILOTS

11089
Women Fighters Pilots
The three women flying cadets (left to right) Mohana Singh, Bhawana Kanth and Avani Chaturvedi are undergoing flying training at Indian Air Force base, Hakempet.(courtesy India today group)

वो घड़ी नजदीक आ गई है जब भारत की बेटियां आकाश में सुपरसोनिक उड़ा कर एक इतिहास रचने जा रही हैं . इंडियन एयरफोर्स की Women Fighter Pilots अब सुपरसोनिक विमान उड़ाने के लिए तैयार हैं .पहली बार फायटर जेट उड़ाने का ट्रेनिंग ले रही वायुसेना की वुमन पायलट टीम की ट्रेनिंग अब पूरी हो रही है और संभव है कि इसी माह उन्हें सुखोई लड़ाकू विमान उड़ाने का मौका दिया जाएगा.




MUST READ: जल्दी ही थलसेना के MILITARY POLICE में शामिल होंगी महिलाएं

 

एयरफोर्स के वुमन फायटर पायलटों को फायटर जेट उड़ाने की ट्रेनिंग पश्चिम बंगाल के कलाइकुंडा बेस पर चल रहा है . फिलहाल ब्रिटिश हॉक एडवांस जेट ट्रेनर पर इन्हें प्रशिक्षित किया जा रहा है. अब इनकी ट्रेनिंग अंतिम दौर में है. ट्रेनिंग पूरी होने के बाद इन्हें एयरफोर्स के फ्लाइट स्क्वाड्रन में शामिल किया जाएगा. जहां उन्हें सुखोई -30 फाइटर प्लेन उड़ाने का मौका दिया जाएगा .




एक लंबे संघर्ष के बाद साल 2015 में पहली बार एयरफोर्स के लड़ाकू स्क्वाड्रन में महिलाओं की शामिल किए जाने का रास्ता साफ हुआ था. जिसके बाद जून 2016 में पहली बार तीन महिला पायलट अवनी चतुर्वेदी, भावना कंठ और मोहना सिंह को फ्लाइंग ऑफिसर के तौर पर कमिशनिंग की गई थी .




MUST READ: नौसेना की 6 BRAVE महिलाएं निकलीं नाविक सागर परिक्रमा पर

इसे बहुत सुखद संयोग कहा जा सकता है कि जब भारत की महिला फायटर पहली बार सुखोई विमान उड़ाने का गौरव हासिल करने जा रही हैं तब देश के रक्षा मंत्रालय का बागडोर भी एक महिला मंत्री ही संभाल रही हैं. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कार्यभार संभालते ही सेना में महिलाओं की भूमिका बढाए जाने के संकेत दे दिए थे .उन्होंने कहा था कि मैं महिलाओं को सेना में लड़ाकू भूमिका दिए जाने के मामले में खुले दिमाग से सोचूंगी .

 
 
 

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें

 

Facebook Comments