इन कारणों से कभी मत छोड़िए नीदरलैंड की राजधानी AMSTERDAM जाने का मौका

847
Amsterdam
Pik Courtesy: rahagiri.com
डॉ कायनात क़ाज़ी:
ट्रैवलर, फोटोग्राफर, ब्लॉगर:
Amsterdam सही माइनों में एक अन्तर्राष्ट्रीय शहर है.  यह यूरोप मे स्थित देश Netherland की राजधानी है, जिसका एक वैभवशाली इतिहास रहा है. एमस्टर्डम आधुनिक और प्राचीन धरोहर का संगम है, जहां एक ओर ऊंची-ऊंची इमारतें हैं वहीं यूनेस्को की विश्व धरोहर-कैनाल रिंग भी यहां मौजूद हैं.
Amsterdam
Pik Courtesy: rahagiri.com
सन् 2010 में यूनेस्को ने इसे विश्व धरोहर की सूची(UNESCO World Heritage List) मे शामिल किया Seventeenth-Century Canal Ring Area of Amsterdam.




एमस्टर्डम  को यह खिताब मिला अपनी प्राचीनतम Canals Ring के लिए. जिसके लिए Amsterdam को उत्तरी यूरोप का वेनिस भी माना जाता है.  यह कैनाल रिंग अपने मे बहुत अद्भुत हैं. यह 100 किलोमीटर मे फैली हुईं हैं.
Amsterdam
Pik Courtesy: rahagiri.com

एमस्टर्डम 12वी शताब्दी मे विश्व मानचित्र पर एक प्रमुख व्यापारिक केंद्र था. यहां समुद्र मार्ग से बड़े निर्यात किए जाते थे. यहां अन्य व्यापारों के साथ-साथ हीरों का व्यापार भी किया जाता था. यह एक पोर्ट सिटी रहा है इसलिए व्यापार का केंद बना और व्यापार को और बेहतर बनाना में कैनाल रिंग ने मुख्य भूमिका निभाई.

MUST READ: EUROPE जा रहे हैं पहली बार तो रखें इन 10 बातों का ख्याल

इस शहर ने पूरी दुनिया के लोगों को अपनी और आकर्षित किया है. आज यहां कई आकर्षण के केंद्र हैं जैसे इस जगह को संग्रहालयों का शहर भी कहा जाता है. Madame Tussauds Museum  भी यहीं स्थित है.

Amsterdam
Pik Courtesy: Amsterdam.info

यह जगह मशहूर है, वैभव कालीन एतिहासिक इमारतों, संग्रहालयों, जुएखानों, रेड लाईट एरिया और कैफे के लिए. यही कारण है की एमस्टर्डम खुले दिल से दुनिया के किसी भी कोने से आए लोगों का गर्मजोशी से स्वागत करता है।




कैनाल रिंग है खास:  (Canals of Amsterdam)
Canal Ring  का निर्माण सत्रहवीं शताब्दी में हुआ.  इसमें लगभग 90 आईलैंड हैं और 1500 ब्रिज. यह शहर अर्बन प्लॅनिंग का शाहकार है. इसे डच साम्राज्य के गोलडन ईरा में बनाया गया था.
यह उस समय की बहुत बड़ी और महत्वाकांक्षी परियोजना थी. यहां मुख्य रूप से तीन कैनाल हैं- Herengracht,  Prinsengracht, और Keizersgracht.
Amsterdam
Pik Courtesy: Amsterdam-online.nl

इन मुख्य कैनालों में एक राजा की कैनाल Keizersgracht है, दूसरी Prinsengracht कैनाल राजकुमार की है और तीसरी कैनाल Herengracht अभिजात वर्ग से सम्बंधित लोगों जैसे मुख्य दरबारी और बड़े व्यापारी की.




इन कैनालों के किनारे-किनारे खूबसूरत घर बनाए गए जोकि आज भी क़ायम हैं और एमस्टरडम की पहचान के रूप में जाने जाते हैं.
एमस्टर्डम का नाम कैसे पड़ा?

क्या कोई सोच सकता है कि एक बेहतरीन शहर Amsterdam के बसने की वजह एक बाढ़ रही होगी. जी हां सन् 1170 मे अमएस्टेल नदी मे एक भीषण बाद आई और अपने साथ बहुत कुछ बहा कर ले गई.

Amsterdam
Pik Courtesy: rahagiri.com

तब यहां के लोगों ने उस बाढ़ से सबक़ लिया और सन् 1173 मे अमएस्टेल नदी पर एक बांध बनाया. इस तरह अमएस्टेल नदी पर बना एक डैम और इस जगह को नाम मिला अमएस्टर+डैम- “अमस्टर्डम”.

SEE THIS: TRAVELपर जाने से पहले BAG PACK करते समय जरुर रखें इन 5 बातों का ध्यान

कभी यह नाम मछवारों के एक छोटे से गांव का हुआ करता था. आज यह एक खूबसूरत शहर है. इस शहर की खूबसूरती के बारे में लिखने से ज़्यादा देखना दिलचस्प होगा. तो आइए और मेरे साथ चलिए इस यात्रा पर..

Amsterdam
डॉ कायनात क़ाज़ी: ट्रैवलर, फोटोग्राफर, ब्लॉगर

इस शहर में कुछ बात है, यह बहुत अपना-सा जान पड़ता है. यहां के लोग मिलनसार हैं. आप किसी से भी पता पूछिए वह आपकी पूरी सहायता करेगा और अगर उसे नहीं मालूम होगा तो बड़ी विनम्रता से माफ़ी मांग लेगा. यहां के लोग साईकिल चलाना बहुत पसंद करते हैं.

टिप्स

इस शहर को देखने के लिए सबसे अच्छा साधन है ट्राम, अगर आप एम्स्टर्डम घूमने जाना चाहते हैं तो यहां पब्लिक ट्रांसपोर्ट बहुत अच्छा है. ट्राम में कहीं भी जाने के लिए आपको 2.90 यूरो खरचने होते हैं। यह एक टिकट की क़ीमत है, मेरी सलाह है कि आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट का पास पहले से ही ले लें. तो काफी बचत की जा सकती है.

अगर आप इसके लिए अमस्टर्डम की अधिकारिक वेबसाइट http://www.iamsterdam.com/पर  जाकर पब्लिक ट्रांसपोर्ट का पास “आई एमस्टरडम सिटी कार्ड” ले लें। वैसे इसे काउंटर से भी ख़रीदा जा सकता है.

Amsterdam
Pik Courtesy: rahagiri.com

iamsterdam के काउंटर एयरपोर्ट और सिटी सेंटर रेलवे स्टेशन पर बने हुए हैं. यह आपकी ज़रूरत के हिसाब से 24 घण्टे या 48 या 72 घण्टे की वेलिडिटी के साथ मिलते हैं. इस पास द्वारा आप ट्राम, बस और बोट का अनलिमिटेड प्रयोग कर सकते हैं.

महिलाओं से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करे… Video देखने के लिए हमारे you tube channel को  subscribe करें